न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तेजी में रहे घरेलू शेयर बाजार, 17 पैसे गिरा रुपया 

34

Mumbai : सकारात्मक वैश्विक संकेतों और जारी विदेशी निवेश के बीच बैंकिंग, धातु, तेल और गैस और दूरसंचार क्षेत्र की कंपनियों की अगुवाई में मंगलवार को शुरुआती कारोबार में घरेलू शेयर बाजार बढ़त में रहे.

शुरुआती कारोबार में बीएसई का सेंसेक्स 239.11 अंक यानी 0.61 प्रतिशत की बढ़त के साथ 39,144.95 अंक पर चल रहा था. इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 63.35 अंक यानी 0.54 प्रतिशत की तेजी के साथ 11,753.70 अंक पर चल रहा था.

गौरतलब है कि सोमवार को बीएसई का सेंसेक्स 138.73 अंक या 0.36 प्रतिशत की बढ़त के साथ 38,905.84 अंक पर बंद हुआ था. वहीं निफ्टी 46.90 अंक यानी 0.40 प्रतिशक की तेजी के साथ 11,690.35 अंक पर बंद हुआ था.

इसे भी पढ़ें- घाटे के मामले में इंडिया पोस्ट ने एयर इंडिया और BSNL को भी पीछे छोड़ा, हुआ 15 हजार करोड़ का घाटा

बाजार का रुख होगा प्रभावित

शेखरन बाई बीएनपी पैरिबस के परामर्श विभाग के प्रमुख हेमंग जानी ने कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 की चौथी तिमाही की कमाई के आंकड़े से भी बाजार का रुख प्रभावित होगा.  शुरुआती आंकड़ों के अनुसार सोमवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 713.22 करोड़ रुपये की शुद्ध खरीदारी की. वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 581.36 करोड़ रुपये की खरीदारी की.

मंगलवार को शुरुआती कारोबार में आईसीआईसीआई बैंक, वेदांता, कोल इंडिया, एम एंड एम, एशियन पेंट्स, हीरो मोटोकॉर्प, मारुति, इंड्सइंड बैंक, सन फार्मा, आरआईएल एवं एचसीएल टेक के शेयर सबसे अधिक 2.67 फीसदी तक चढ़े.

Related Posts

70-80 रुपये किलो पहुंचा प्याज, स्टॉक की सीमा तय करने पर विचार कर रही है सरकार

प्रमुख प्याज उत्पादक राज्यों में मानसून की भारी बारिश से आपूर्ति प्रभावित हुई है जिसकी वजह से इसकी कीमतों में उछाल आया है.  

वहीं भारती एयरटेल, इन्फोसिस, टाटा मोटर्स, टाटा स्टील और एचयूएल के शेयरों की कीमत में गिरावट देखी गयी. एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई कंपोजिट, जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कोस्पी कारोबार के दौरान तेजी में चल रहे थे.

इसे भी पढ़ेंःआजम खान और मेनका गांधी के प्रचार करने पर भी चुनाव आयोग ने लगायी पाबंदी

रुपया 17 पैसे कमजोर

बैंकों एवं निर्यातकों की डॉलर मांग बढ़ने से मंगलवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 17 पैसे गिरकर 69.59 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया. डीलरों ने कहा कि विदेशी बाजारों में डॉलर के मजबूत होने से भी रुपये पर दबाव रहा. हालांकि सतत विदेशी निवेश और घरेलू बाजार के बढ़त में खुलने से रुपये की गिरावट पर कुछ लगाम रही.

अंतर बैंक मुद्रा बाजार में मंगलवार को रुपया 69.55 के स्तर पर खुला लेकिन उसके बाद और कमजोर होकर 69.59 रुपये के स्तर पर पहुंच गया. वहीं सोमवार को रुपया 69.42 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.

शुरुआती आंकड़ों के अनुसार सोमवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने 713.22 करोड़ रुपये की शुद्ध खरीदारी की. इस बीच ब्रेंट क्रूड 0.27 प्रतिशत गिरकर 70.99 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: