JharkhandRanchi

कलश लेकर RMC के नये भवन पहुंचे मेयर-डिप्टी मेयर व पार्षद, गाजे-बाजे के साथ हुआ गृह प्रवेश

Ranchi : रांची नगर निगम के नये भवन का गृह प्रवेश सोमवार को बड़े धूमधाम से किया गया. मेयर आशा लकड़ा, डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय सहित पार्षदों की टोली ने कलश लेकर निगम के नये भवन में प्रवेश किया. इस दौरान पूरे विधि विधान के साथ गृह प्रवेश कार्यक्रम का आयोजन हुआ. नये भवन पहुंचने के बाद पंडितों के एक समूह द्वारा पूजा अर्चना की गयी. उसके बाद नये भवन में गृह प्रवेश किया गया. मौके पर निगम जनप्रतिनिधियों सहित नगर आयुक्त मुकेश कुमार, विधायक सीपी सिंह, सिटी मैनेजर सहित कई लोग उपस्थित थे.

सीसीटीवी से रखी जायेगी नजर

नया भवन जहां देखने में काफी खूबसूरत है. वहीं इसमें वह सारी सुविधाएं दी गयी हैं, जो इसे एक हाइटेक भवन बनाती है. पार्किंग से लेकर हर फ्लोर पर सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है. इसके लिए कंट्रोल रूम भी बनाया गया है. इसके अलावा आम लोगों को यहां आने के बाद वाहन पार्क करने में किसी तरह की परेशानी न हो. इसके लिए यहां 40 चार पहिया व 100 दो पहिया वाहन को पार्क करने की भी सुविधा दी गयी है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

भवन देख कर हो रही है खुशी : सीपी सिंह

The Royal’s
Sanjeevani

मौके पर उपस्थित रांची विधायक सीपी सिंह ने कहा कि रांची नगर निगम के नये भवन का निर्माण कार्य भाजपा कार्यकाल में शुरू हुआ था. आज यह भवन निगम के जनप्रतिनिधि, अधिकारी और कर्मचारी को हैंड ओवर किया गया है. यह खुशी की बात है कि आज एक शुभ कार्य की शुरुआत हो रही है. सीपी सिंह ने कहा कि वर्तमान में वे मंत्री नहीं हैं लेकिन भवन देख कर खुशी हो रही है. जिस कल्पना के साथ नये भवन की शुरुआत हुई थी, वह आज तैयार है. देवघर नगर निगम भवन के शिलान्यास का काम भी भाजपा सरकार में हुआ था, जिसका अभी हाल ही में उद्घाटन हुआ है.

सरकार ने निगम को किया है अच्छा भवन हैंडओवर : नगर आयुक्त

नगर आयुक्त ने कहा कि राज्य सरकार ने रांची नगर निगम को एक अच्छा भवन हैंडओवर किया है. मुख्यमंत्री के द्वारा 29 दिसंबर को उसका उद्घाटन किया था. ऑफिस शिफ्टिंग की प्रक्रिया को पूरा कर लिया गया है. उन्होंने कहा, नगर निगम की जिम्मेवारी बनती है कि आनेवाले समय में निगम उसी मुस्तैदी के साथ जनता के हित में कार्यों को पारदर्शिता और ईमानदारी पूर्वक निष्पादन करे, जैसा पहले करता था. पुराने ऑफिस में जगह की कमी थी, इसकी वजह से काम के निष्पादन पर असर पड़ता था. लेकिन अब बड़े कार्यालय का फायदा आम लोगों को मिलेगा.

Related Articles

Back to top button