BusinessKhas-Khabar

मंदी की मारः ऑटो सेक्टर में तेज गिरावट का सिलसिला जारी, मारुति की बिक्री 33 प्रतिशत घटी

विज्ञापन

New Delhi: ऑटो सेक्टर मंदी की मार से धराशयी है. मारूति से लेकर होंडा तक में बिक्री में भारी गिरावट का दौर जारी है. अगस्त में भी मारुति सुजुकी इंडिया,ह्युंदे, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स और होंडा सहित सभी प्रमुख वाहन निर्माताओं ने बिक्री में भारी गिरावट की सूचना दी है.

मारुति की बिक्री 32.7 फीसदी गिरी

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया की बिक्री अगस्त महीने में 32.7 प्रतिशत घटकर 1,06,413 वाहन रह गई. इससे पिछले साल के समान महीने में कंपनी की बिक्री 1,58,189 इकाई रही थी.

कंपनी ने बयान में कहा कि अगस्त में उसकी घरेलू बाजार में बिक्री 34.3 प्रतिशत घटकर 97,061 इकाई रह गई, जो अगस्त, 2018 में 1,47,700 इकाई थी.

advt

इसे भी पढ़ेंःबिहार के डिप्टी सीएम का बेतुका बयानः कहा- हर सावन, भादो के महीने में रहती है आर्थिक मंदी

इसी तरह होंडा कार्स इंडिया और टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने बिक्री में क्रमशः 51 प्रतिशत एवं 21 प्रतिशत की गिरावट की सूचना दी है.

टाटा मोटर्स के यात्री वाहनों की घरेलू बिक्री 58 % लुढ़की

घरेलू क्षेत्र की प्रमुख वाहन कंपनी टाटा मोटर्स के यात्री वाहनों की घरेलू बिक्री अगस्त में 58 प्रतिशत तक लुढ़क गयी. कंपनी ने पिछले 7,316 वाहनों की बिक्री की. कंपनी ने पिछले साल अगस्त में 17,351 वाहनों की बिक्री की थी.

बिक्री आंकड़ों पर टाटा मोटर्स के यात्री वाहन कारोबार के अध्यक्ष मयंक पारीक ने कहा कि बाजार में परिस्थितियां चुनौतीपूर्ण बनी हुई हैं.

adv

लेकिन कंपनी खुदरा बिक्री को बेहतर करने की दिशा में काम कर रही है. उन्होंने कहा कि खुदरा बिक्री में 42 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है.

महिंद्रा एंड महिंद्रा की कुल बिक्री घटकर अगस्त में 36,085 इकाइयों पर रही. कंपनी ने पिछले साल अगस्त में 48,324 इकाई बेचे थे.

ह्युंदे मोटर इंडिया लिमिटेड की अगस्त में कुल बिक्री 9.54 प्रतिशत घटकर 56,005 वाहन रही. पिछले साल इसी अवधि में यह बिक्री 61,912 वाहन थी.

कंपनी ने एक बयान में बताया कि समीक्षावधि में उसकी घरेलू बिक्री 16.58 प्रतिशत घटकर 38,205 वाहन रही. इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 45,801 वाहन थी.

होंडा कार्स इंडिया लि.(एचसीआइएल) की घरेलू बिक्री अगस्त महीने में 51.28 प्रतिशत घटकर 8,291 इकाई रह गई, जो एक साल पहले समान महीने में 17,020 इकाई थी. माह के दौरान कंपनी ने 227 वाहनों का निर्यात भी किया.

एचसीआइएल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं निदेशक बिक्री एवं विपणन राजेश गोयल ने कहा कि उपभोक्ता धारणा कमजोर पड़ने से वाहन क्षेत्र में भारी गिरावट आई है. उन्होंने कहा कि यह स्थिति तब है जबकि वाहन क्षेत्र में ऊंची छूट दी जा रही है और यह कार खरीदने का अच्छा समय है.

इसे भी पढ़ेंःजीएसटी संग्रह में गिरावट, जुलाई के 1.02 लाख करोड़ के मुकाबले अगस्त में  98,202 करोड़ रुपये  रहा

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर की बिक्री में 21 प्रतिशत की गिरावट

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर के वाहनों की बिक्री अगस्त में 21 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,544 इकाइयों पर रही.

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) ने बयान जारी कर कहा है कि पिछले साल अगस्त में उसने 14,581 वाहनों की बिक्री की थी. टीकेएम की घरेलू बिक्री अगस्त में 24 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,701 इकाइयों पर रही. कंपनी ने अगस्त, 2018 में 14,100 वाहनों की बिक्री की थी.

एमजी मोटर इंडिया ने रविवार को कहा कि अगस्त में उसने 2,018 वाहनों की खुदरा बिक्री की. कंपनी ने इस साल जुलाई में 1,508 इकाइयों की बिक्री की थी.

एमजी मोटर इंडिया के मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी गौरव गुप्ता ने बयान में कहा है, ‘ग्राहकों को पूरी तरह संतुष्ट करने की हमारी प्रतिबद्धता के तहत हमारा ध्यान मुख्य रूप से 28,000 बुकिंग को पूरा करने पर है.’

दुपहिया वाहन श्रेणी की बात करें तो हीरो मोटो कॉर्प ने पिछले अगस्त की तुलना में इस साल इसी महीने में डेढ़ प्रतिशत अधिक वाहनों की बिक्री की है. कंपनी ने आलोच्य माह में 5,43,406 वाहनों की बिक्री की. कंपनी ने पिछले साल अगस्त में 5,35,810 दुपहिया वाहन बेचे थे.

इसे भी पढ़ेंःदिग्विजय सिंह ने कहा, भाजपा-बजरंग दल वाले आईएसआई से ले रहे हैं पैसे, पाकिस्तान के लिए कर रहे हैं जासूसी

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button