न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

इतिहास के पन्नों में 10 मई : बाबर ने आज के दिन ही जीती थी पानीपत की लड़ाई

555

New Delhi : साल के पांचवें महीने का दसवां दिन कई ऐतिहासिक घटनाओं का साक्षी है. आज ही के दिन बाबर ने पानीपत की लड़ाई जीतने के बाद देश की तत्कालीन राजधानी आगरा में कदम रखा और मुगल शासन की स्थापना करके हमारे देश का इतिहास भूगोल सब बदलकर रख दिया.

दुनिया में हर दिन कोई न कोई रिकार्ड बनता टूटता रहता है, लेकिन पहली बार कोई उपलब्धि हासिल करने वाले का नाम हमेशा याद रखा जाता है. हरियाणा की संतोष यादव ने विश्व की सबसे ऊंची चोटी एवरेस्ट पर लगातार दूसरी बार दस मई के दिन ही कदम रखा था और ऐसा करने वाली वह दुनिया की पहली महिला पर्वतारोही बनीं.

इसे भी पढ़ेंःकनाडाई अक्षय कुमार के INS सुमित्रा पर सवार होने को लेकर कांग्रेस ने मोदी को घेरा

आज की तारीख पर दर्ज कुछ अन्य प्रमुख घटनाएं

  • 1427: यूरोपीय शहर स्विट्जरलैंड के बर्न शहर से यहूदियों को निष्कासित किया गया.
  • 1503: इटली के खोजकर्ता और नाविक कोलंबस ने कायमान द्वीप की खोज की.
  • 1526: पानीपत की लड़ाई जीतने के बाद मुगल शासक देश की तत्कालीन राजधानी आगरा पहुंचा.
  • 1655: ब्रिटिश सेना ने जमैका पर कब्जा किया.
  • 1796: नेपोलियन ने लोदी ब्रिज के युद्ध में आस्ट्रिया को हराया
  • 1857 : अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ पहले स्वतंत्रता संग्राम की शुरूआत. मेरठ की तीनों रेजीमेंट के सिपाहियों ने बगावत का झंडा उठाकर दिल्ली कूच कर दिया. इसमें मह‍िलाओं ने भी सहयोग दिया. ब्रिटिश अधिकारियों ने इसे दबाने के लिए अपनी पूरी ताकत झौंक दी.
  • 1916: नीदरलैंड की राजधानी एम्स्टरडम में ऐतिहासिक शिप पोर्ट संग्रहालय खोला गया.
  • 1945:रूसी सेना ने चेक गणराज्य की राजधानी प्राग पर कब्जा किया.
  • 1959: सोवियत सेना अफगानिस्तान पहुंची.
  • 1967 : मशहूर रॉक बैन्ड रोलिंग स्टोन्स के दो सदस्यों को मादक पदार्थों से जुड़े एक मामले में अदालत में पेश होना पड़ा.
  • 1972: अमेरिका ने नेवादा में परमाणु परीक्षण किया.
  • 1993: संतोष यादव दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत शिखर एवरेस्ट पर दो बार पहुंचने वाली पहली महिला पर्वतारोही बनीं.
  • 1994 : रंगभेद को समाप्त करने की मुहिम में अपना पूरा जीवन लगा देने वाले नेल्सन मंडेला दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति बने. उन्हें 1993 में एफ डब्ल्यू डी क्लार्क के साथ संयुक्त रूप से नोबेल शांति पुरस्कार दिया गया.
  • 1995: दक्षिण अफ्रीका में सोने की एक खान की लिफ्ट में हुए हादसे में 104 मजदूरों की मौत.

इसे भी पढ़ेंःहोने लगी एनडीए में पीएम बदलने की मांग, जदयू नेता ने कहा- नीतीश बनें प्रधानमंत्री

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: