Crime NewsJharkhandRanchi

हाइकोर्ट ने गैंगस्टर अखिलेश सिंह को निचली अदालत से मिली उम्रकैद की सजा बरकरार रखी

Ranchi: गैंगस्टर अखिलेश सिंह को निचली अदालत से मिली उम्रकैद की सजा झारखंड हाइकोर्ट ने बरकरार रखी. 2 मई को अखिलेश सिंह की याचिका खारिज करते हुए हाइकोर्ट ने निचली अदालत के आदेश को सही बताया. जस्टिस एचसी मिश्र और जस्टिस एसके द्विवेदी की अदालत ने अपने आदेश में टिप्पणी की है कि अखिलेश सिंह को जेल से बाहर नहीं रखा जा सकता. उसके बाहर रहने से समाज के लोग सुरक्षित महसूस नहीं करेंगे, उसे पूरी उम्र जेल में रहना होगा. उसके अपराध ऐसे हैं कि सरकार को सजा माफी भी नहीं देनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें – जीएसटी की मार ऑटोमोटिव इंडस्ट्री पर, हर हफ्ते बंद हो रहे दो शोरूम, जा रही हैं हजारों नौकरियां

गैंगस्टर अखिलेश सिंह के खिलाफ विभिन्न थानों में 56 मामले हैं दर्ज

Catalyst IAS
ram janam hospital

मिली जानकारी के अनुसार वर्ष 2001 से लेकर 2017 तक अखिलेश सिंह पर जमशेदपुर जिले के विभिन्न थानों में हत्या, रंगदारी, फायरिंग के 56 मामले दर्ज हैं. जमशेदपुर के सिदगोड़ा निवासी अखिलेश सिंह ने अपने गुरु विक्रम शर्मा के साथ ट्रांसपोर्ट का काम शुरू किया था. इसी दौरान काबरा ऑटोमोबाइल के मालिक ओम प्रकाश काबरा के अपहरणकांड में नाम आने के बाद वह अपराध की दुनिया में आ गया था.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें –  सुब्रमण्यम स्वामी बोले, भाजपा की 230 से कम सीटें आयीं, तो मोदी नहीं बन पायेंगे पीएम  

गैंगवार की आशंका को देखते हुए दुमका जेल किया गया था शिफ्ट

मिली जानकारी के अनुसार स्पेशल ब्रांच ने अखिलेश के जेल में बंद रहने के बावजूद सक्रिय रहने और गैंगवार की आशंका जताते हुए एक रिपोर्ट डीजीपी को भेजी थी. इसमें कहा गया था कि अखिलेश को दूसरी जेल में शिफ्ट किया जाना जरूरी है. इसके बाद ही घाघीडीह जेल में गैंगवार की आशंका को देखते हुए 29 नवंबर 2017 को अखिलेश को दुमका जेल शिफ्ट किया गया था. गैंगस्टर अखिलेश सिंह को उसकी पत्नी गरिमा सिंह के साथ जिले की पुलिस ने गुरुग्राम (गुड़गांव) पुलिस की मदद से गिरफ्तार किया था. इस दौरान पुलिस की फायरिंग में अखिलेश के दोनों घुटनों में गोली लगी थी.

इसे भी पढ़ें – चुनाव आयोग की निष्पक्षता सवालों के दायरे में उलझती जा रही है

रीयल इस्टेट के धंधे में किया है बड़ा निवेश

बताया जा रहा है कि अखिलेश सिंह ने कई राज्यों में रीयल इस्टेट के धंधे में बड़ा निवेश किया है. अखिलेश सिंह ने अपराध जगत में कदम रखने के बाद अकूत दौलत कमायी. अपनी कमाई का बड़ा हिस्सा उसने ट्रांसपोर्ट और रीयल इस्टेट के बिजनेस में लगाया है. जमशेदपुर और इसके आसपास की कई कंपनियों में भी उसका काम चल रहा है. शहर के अलग-अलग हिस्सों में अखिलेश सिंह के फ्लैट हैं. दूसरे लोगों के नाम पर वह करोड़ों रुपये का बिजनेस कर रहा है. उसने अन्य लोगों के नाम पर हाईवा, ट्रेलर और कई अन्य वाहन खरीद रखे हैं.

इसे भी पढ़ें – पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ कांग्रेस की शिकायतों पर 6 मई तक फैसला ले चुनाव आयोगः सुप्रीम कोर्ट

Related Articles

Back to top button