Court NewsJharkhandRanchi

हाईकोर्ट ने गढ़वा-मझियांव-कांडी सड़क के निर्माण के दौरान काटे गए पेड़ों का हिसाब मांगा

Ranchi: झारखंड हाइकोर्ट ने गढ़वा-मझियांव-कांडी सड़क के निर्माण के दौरान काटे गये पेड़ों का हिसाब सरकार से मांगा है. सरकार को यह बताने को कहा गया है कि सड़क निर्माण के लिए कितने पेड़ काटे गए हैं और तूफान में कितने पेड़ गिरे हैं. सरकार को शपथपत्र के माध्यम से पूरा ब्योरा देने का निर्देश अदालत ने दिया है. अगली सुनवाई पूजावकाश के बाद होगी.

इस संबंध में बृजेंद्र कुमार पाठक ने जनहित याचिका दायर की है. याचिका में कहा गया है कि सड़क निर्माण के नाम पर अंधाधुंध पेड़ों की कटाई की जा रही है. जहां जरूरत नहीं है वहां भी पेड़ काटे जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें:यौन शोषण मामले में सुनील तिवारी की जमानत याचिका एससी-एसटी स्पेशल कोर्ट ने की खारिज

advt

सरकार की ओर से बताया गया कि पेड़ जरूरत के अनुसार ही काटे जा रहे हैं. जिन पेड़ों को चिन्हित किया गया है उसकी ही कटाई की जा रही है. प्रार्थी की ओर से इसका विरोध किया गया और अदालत में तस्वीर पेश कर बताया गया कि पेड़ों मे काटने के निशान है.

इस पर अदालत ने सरकार को यह बताने को कहा कि कितने पेड़ काटे गए हैं और कितने तूफान में गिरे हैं. पूजावकाश के बाद मामले की अगली सुनवाई होगी.

इसे भी पढ़ें:असम: कब्जा हटाने गयी पुलिस से भिड़े लोग, दो प्रदर्शनकारियों की मौत, 9 पुलिसकर्मी घायल

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: