Court News

हाइकोर्ट ने कहा – ऐसा लग रहा है आरोपी को बचा रही है पुलिस, हजारीबाग एसपी को हाजिर होने का आदेश

विज्ञापन

Ranchi : हजारीबाग जिले की एक नाबालिग युवती को जबरदस्ती एसिड पिलाये जाने के मामले में झारखंड हाइकोर्ट ने पुलिस पर नाराजगी जाहिर की है. कोर्ट ने पुलिस की जांच की कार्यवाही की जानकारी अदालत को देने के लिए हजारीबाग एसपी और इस केस के अनुसंधानकर्ता को हाज़िर होने का आदेश दिया है.

इसे भी पढ़ें – CM हेमंत सोरेन ने गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे पर किया कोर्ट केस

पुलिस की जांच सही दिशा में नहीं

झारखंड हाइकोर्ट में हजारीबाग में नाबालिग लड़की को एसिड पिलाने के मामले में चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की कोर्ट में वीसी के जरिए सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान अदालत ने पुलिस जांच पर कड़ी नाराजगी जताते हुए कहा कि पुलिस की जांच सही दिशा में नहीं है, ऐसा लग रहा है कि पुलिस आरोपी को बचाते हुए जांच में लीपापोती कर रही है. हाइकोर्ट ने इस मामले की अगली सुनवाई के लिए 21 अगस्त की तिथि मुक़र्रर की है.

advt

अदालत इस मामले में राज्य सरकार द्वारा दिये गये जवाब से संतुष्ट नहीं दिखा. ज्ञात हो कि अधिवक्ता अपराजिता भारद्वाज के द्वारा हजारीबाग में हुई इस घटना के बाद हाइकोर्ट को पत्र के माध्यम से सूचना दी गयी थी जिस पर अदालत ने संज्ञान लेते हुए इस मामले की सुनवाई शुरू की थी.

इसे भी पढ़ें – नये विधानसभा लाइब्रेरी का फॉल्स सीलिंग गिरा

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button