न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

HC ने नगर विकास विभाग को चास मेयर भोलू पासवान पर कार्रवाई करने का आदेश दिया

हाईकोर्ट ने नगर विकास विभाग और चुनाव आयोग को मेयर पर कार्रवाई करने के आदेश दिये हैं. 13 जून तक कार्रवाई कर हाईकोर्ट को सभी गतिविधियों की जानकारी देने को कहा गया है.

1,200

Ranchi : चास नगर निगम के मेयर भोलू पासवान के केस में सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने नगर विकास विभाग और चुनाव आयोग को मेयर पर कार्रवाई करने के आदेश दिये हैं. 13 जून तक कार्रवाई कर हाईकोर्ट को सभी गतिविधियों की जानकारी देने को कहा गया है. मेयर भोलू पासवान पर दो अलग अलग नामों से दो चुनावों में चुनाव लड़ने का आरोप लगाया गया है. आरोप है कि 2010 के नगर परिषद के चुनाव में उपाध्यक्ष पद के लिए मनतोष कुमार के नाम से चुनाव लड़ा था. वहीं 2015 के नगर निगम चुनाव में भोलू पासवान के नाम से मेयर पद का चुनाव लड़ा था.

दोनों में पेन कार्ड मनतोष कुमार के नाम से ही जमा किये गये थे. उन्होंने ऐसा कोई शपथ पत्र जमा नहीं किया था जिसमें कहा गया हो कि दोनों एक ही नाम हैं. इसको लेकर पैट्रि‍क सदा के द्वारा रीट दायर की गयी थी.  जिसपर 13 मई को सुनवाई के बाद निर्देश जारी किया गया.

इसे भी पढ़ें – अब तक झारखंड में नहीं लागू हो सका सवर्ण आरक्षण, सीएम रघुवर दास की घोषणा के बीते 120 दिन

नगर विकास विभाग व चुनाव आयोग दोनों के पास सदस्यता रद्द करने के अधिकार

हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग और नगर विकास विभाग दोनों को निर्देश दिया है कि  आप दोनों विभागों को चुनाव रद्द करने और मेयर की सदस्यता रद्द करने का ज्यूडिशियल अधिकार प्राप्त है. सुनवाई के दौरान चुनाव आयोग और नगर विकास विभाग के वरीय पदाधिकारी मौजूद थे. नगर निगम के डिप्टी मेयर ने भी मेयर भोलू पासवान पर मानहानी का केस दर्ज कराया है.

इसे भी पढ़ें – संथाल की तीन सीटें रघुवर सरकार के लिए आदिवासी बहुल क्षेत्र में जनमत संग्रह तो नहीं

बोकारो कोर्ट से मांगा मेयर के सभी केस का वर्तमान स्टेटस

हाई कोर्ट ने बोकारो कोर्ट को निर्देश दिया है कि मेयर के उपर हुए सभी केस के वर्तमान स्टेटस हाई कोर्ट को अगली तारीख में मुहैया कराये. साथ ही अगली सुनवाई के दिन भोलू पासवान को सशरीर उपस्थित होने के आदेश दिये गये हैं. 26 जून को होने वाली फाइनल सुनवाई के दिन भोलू की उपस्थिति में वकील  हाई कोर्ट में अपना प्रस्ताव रखेंगे. केस में फाइनल गवाही बोकारो न्यायालय के फास्ट ट्रेक कोर्ट में चल रही है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: