Ranchi

AFCI में सामानों की ढुलाई का मामला पहुंचा हाइकोर्ट, राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस ने किया PIL

विज्ञापन

Ranchi : राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव संतोष कुमार सोनी ने एफसीआइ के सामानों की ढुलाई के लिए निकाले गये टेंडर की प्रक्रिया पर सवाल उठाया है. उन्होंने आरोप लगाया है कि कांग्रेस की सरकार को साजिश के तहत बदनाम करने की कोशिश चल रही है.

साथ ही कहा कि झारखंड राज्य खाद्य निगम के कुछ अधिकारी और NEML प्राइवेट लिमिटेड मिलकर झारखंड के राजस्व को क्षति पहुंचाने का काम कर रहे हैं. इसके अलावा दूसरे राज्य के पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए ऐसा किया गया है. इंटक के राष्ट्रीय सचिव सह प्रवक्ता एवं ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी ओबीसी डिपार्टमेंट के राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर संतोष कुमार सोनी ने प्रेस बयान जारी कर ये बात कही है.

इसे भी पढ़ें:  CM हेमंत और घरवालों की हुई Corona जांच, रिपोर्ट शाम तक

विभागीय मंत्री को फंसाने में लगे हैं कुछ लोग

सोनी ने आगे कहा है कि प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक दुबे, लाल किशोर नाथ शहदेव एवं केशव महतो कमलेश मेरी शिकायत करने में अपनी ऊर्जा जाया कर रहे हैं. ये लोग खाद्य आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव को गलत जानकारी पहुंचाने में लगे हैं. उन्हें हम कहना चाहते हैं कि हमारे प्रदेश में करोड़ों का घोटाला हो चुका है.

जिसे आगे भी जारी रखने का प्रयास किया जा रहा है. कुछ विरोधी दल के लोग एवं विभाग के पदाधिकारी और NEML प्राइवेट कंपनी द्वारा षड्यंत्र के तहत विभागीय मंत्री को फंसाने की कोशिश की जा रही है. ताकि पिछले मामले में लीपापोती हो सके.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना के बढ़ते प्रभाव ने देश के हेल्थ सेक्टर की कमियों को उजागर कर दिया है

क्यों दायर किया पीआइएल

सोनी ने आगे कहा कि राज्य को बदनामी से बचाने के लिए मामले को उच्च न्यायालय ले गया हूं. मुझे फर्जी बोलने वाले अपनी जुबान पर काबू रखें. मैं कांग्रेस पार्टी का सिपाही हूं और रहूंगा. रही बात निकालने की तो वह डिसीजन हमारे आलाकमान लेंगे.

इसे भी पढ़ेंः मंडप एक… दूल्हा एक…. दुल्हन दो, अरेंज और लव मैरिज साथ-साथ

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: