Court NewsJharkhandLead NewsRanchi

हाइकोर्ट ने हेल्थ डिपार्टमेंट से मांगा एफिडेविट- कब तक पूरी तरह से चालू होगा 500 बेड का सुपर स्पेशियलिटी सदर हॉस्पिटल

Ranchi : हाइकोर्ट में मंगलवार को सदर हॉस्पिटल मामले में सुनवाई हुई. हाइकोर्ट ने हेल्थ डिपार्टमेंट से पूछा कि सदर हॉस्पिटल का क्या स्टेटस है, इसकी पूरी डिटेल एफिडेविट के साथ अगली सुनवाई में बताये. साथ ही यह बताये कि 500 बेड के हॉस्पिटल को पूरी तरह से चालू होने में कितना टाइम और लगेगा. जिससे इलाज के लिए आनेवाले मरीजों को हॉस्पिटल में सारी सुविधाएं मिल सकें. कोर्ट ने यह भी बताने को कहा है कि अबतक हॉस्पिटल में कौन-कौन सी मशीनें और इक्विपमेंट्स लगायी गयी हैं.

चूंकि सेकेंड वेव में हॉस्पिटल के पूरी तरह चालू नहीं होने के कारण जो मौतें हुई हैं उससे इंकार नहीं किया जा सकता. इससे पहले विजेता कंस्ट्रक्शन से बकाया मामले की पूछताछ हुई. जिसमें बताया गया कि विजेता की ओर से पुष्पा एजेंसी को उसके बकाये का भुगतान कर दिया गया है. लेकिन विभाग उन्हें काम करने के लिए एक्सटेंशन देने को तैयार नहीं है. इस पर हाइकोर्ट ने कहा कि यह काम कैसे पूरा होगा यह कंपनी जाने.

इसे भी पढ़ें : रांची में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए उमड़ी भीड़, कोरोना गाइडलाइंस की उड़ी धज्जियां

30 जून तक चालू करने की डेडलाइन

सदर हॉस्पिटल की बिल्डिंग 2014 में पूरी तरह से तैयार हो गयी थी. पीआइएल दाखिल किये जाने के बाद अगस्त 2017 में हेल्थ डिपार्टमेंट के प्रयास 200 बेड के साथ सदर हॉस्पिटल को चालू किया गया. हॉस्पिटल को पूरी तरह से चालू करने के लिए दी गयी 2 डेडलाइन भी फेल हो गयी. हाइकोर्ट में कंटेंट ऑफ कोर्ट फरवरी 2019 में किया गया.

इसके बाद कई बार हेल्थ डिपार्टमेंट की ओर से एक्सटेंशन की मांग की गयी. इस बार 30 जून 2021 की डेडलाइन दी गयी है. लेकिन हॉस्पिटल में काम की जो रफ्तार चल रही है उससे इतना तो साफ है कि 30 जून तक हॉस्पिटल पूरी तरह से चालू नहीं हो पायेगा.

इसे भी पढ़ें :रांची की मेयर ने लौटाई बोर्ड प्रोसीडिंग फाइल, नगर आयुक्त पर साधा निशाना, कहा- नहीं करना चाहते काम

Related Articles

Back to top button