JharkhandRanchi

ओडिशा के मुन्ना साहू व बिहार के अखिलेश यादव के संरक्षण में झारखंड के रास्ते हो रही गांजे की तस्करी

Ranchi: ओडिशा के मुन्ना साहू और बिहार के अखिलेश यादव के संरक्षण में झारखंड के रास्ते गांजे की तस्करी की जा रही है. इस बात का खुलासा तब हुआ जब जमशेदपुर के घाटशिला डीएसपी राजकुमार मेहता के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने कार्रवाई करते हुए करीब 15 लाख रुपये का गांजा बरामद किया. साथ ही दो लोगों को भी गिरफ्तार किया. गिरफ्तार गांजा तस्करों में मोहम्मद अमीन और मोहम्मद नाजिस शामिल हैं. यह दोनों बिहार के पटना के रहने वाले हैं. पुलिस ने इन दोनों के पास से 135 किलो गांजा और एक स्कॉर्पियो गड़ी बरामद की है.

इसे भी पढ़ें- एक्ट ऑफ गॉड :  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के इस फसाने की हकीकत क्या है?

गुप्त सूचना के आधार पर हुई कार्रवाई

जमशेदपुर एसएसपी को गुप्त सूचना मिली थी कि ओडिशा से बहरागोड़ा होते हुए अवैध रूप से गांजे को पटना ले जाया जाएगा. इसी सूचना के आधार पर एसडीपीओ राजकुमार मेहता के नेतृत्व में पुलिस की टीम में जामसोला चेक पोस्ट पर एक स्कॉर्पियो से 135 किलो गांजे के साथ बरामद किया. पुलिस ने दो लोगों को भी गिरफ्तार किया.

advt

इनके संरक्षण में हो रही तस्करी

ओडिशा के मुन्ना साहू और बिहार के वैशाली जिले के रहने वाले अखिलेश यादव के संरक्षण में झारखंड के रास्ते गांजा का कारोबार हो रहा है. गांजे की तस्करी करते गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद अमीन भी उनका पार्टनर है. मोहम्मद अमीन ने ही मुन्ना साहू और अखिलेश यादव के बारे में खुलासा किया. इन गांजा तस्करों के द्वारा पुलिस को चकमा देने के लिए स्कॉर्पियो के अंदर ही गांजा छिपाने की जगह बना ली गयी थी. समय-समय पर गांजे की तस्करी इसी गाड़ी से की जाती थी.

इसे भी पढ़ें- ग्रेजुएशन पार्ट-थ्री के 12 हजार स्टूडेंट्स की 14 सितंबर से परीक्षा लेगा नीलांबर-पीतांबर विवि

गांजा तस्करी का केंद्र बना ओडिशा

ओडिशा के कोरापुट जिला झारखंड, बिहार, यूपी समेत कई राज्यों के लिए गांजा तस्करी का नया केंद्र बन गया है. गांजा तस्करी करने वालों का नेटवर्क इतना बड़ा हो चुका है कि वो बड़े पैमाने पर गांजे की तस्करी कर रहे हैं.

ओडिशा का गांजा झारखंड के कई शहरों से होते हुए बिहार, यूपी के शहरों में पहुंच रहा है. जानकारी के अनुसार झारखंड के हजारीबाग, धनबाद, रांची, जमशेदपुर और बिहार के कई शहर जैसे पटना, गया, औरंगाबाद समेत यूपी के कई शहरों में ओडिशा के कोरापुट से गांजे की तस्करी हो रही है. सिर्फ रांची की बात करें तो यहां एक साल के दौरान ओडिशा से पहुंचा करीब एक करोड़ रुपये का गांजा पकड़ा गया है.

इसे भी पढ़ें- … तो 50 साल तक कांग्रेस विपक्ष में बैठी रहेगी: गुलाम नबी आजाद

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: