न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हेमंत सोरेन ने विधायक विकास मुंडा से खूंटी लोकसभा सीट के लिए मांगा सहयोग

186
  • दोनों नेताओं की चल रही है बातचीत.
  • एक अप्रैल के बाद बड़ा खुलासा करेंगे विधायक विकास मुंडा
mi banner add

Ranchi : तमाड़ के विधायक विकास मुंडा से नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने खूंटी संसदीय सीट को लेकर महागंठबंधन के लिए सहयोग मांगा है. यह भी कयास लगाया जा रहा है कि मुंडा झारखंड मुक्ति मोरचा में शामिल हो सकते हैं. इसका खुलासा एक अप्रैल के बाद हो सकता है. फिहलाह विधायक विकास मुंडा रांची से बाहर हैं.

खूंटी संसदीय सीट कांग्रेस पार्टी के खाते में आयी है. यहां पर अब तक प्रत्याशी के नाम की घोषणा नहीं की गयी है. मुंडा तमाड़ विधानसभा सीट से निर्वाचित हुए श्री मुंडा पर मुंडा जाति के वोटरों पर पकड़ को लेकर विपक्ष के बड़े नेताओं ने उनसे संपर्क स्थापित करना शुरू किया है.

इसे भी पढ़ेंःकांग्रेस स्क्रीनिंग कमिटी की बैठक में 5 नामों पर सहमति, रांची से सुबोधकांत और खूंटी से प्रदीप बलमुचू!

दलों के तरफ से तैयार की जा रही है रणनीति

महागंठबंधन के दल में झामुमो, कांग्रेस, झारखंड विकास मोरचा और राष्ट्रीय जनता दल शामिल हैं. गंठबंधन ने भाजपा के घोषित प्रत्याशी और पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा के खिलाफ बेहतर प्रत्याशी देने का निर्णय लिया है. इन सब बातों को लेकर झामुमो के केंद्रीय उपाध्यक्ष हेमंत सोरेन और विधायक विकास मुंडा की बातचीत भी हुई है.

Related Posts

पलामू : डायरिया से बच्चे की मौत, माता-पिता व भाई गंभीर, गांव में दर्जन भर लोग पीड़ित

स्वास्थ्य विभाग के डायरिया नियंत्रण की खुली पोल, आनन-फानन में कुछ लोगों को एंबुलेंस से भेजा अस्पताल

उधर कांग्रेस पार्टी की तरफ से भी विधायक मुंडा से सहयोग की अपील की गयी है. तमाड़ के मतदाताओं को महागंठबंधन के पक्ष में मतदान देने को लेकर दलों की तरफ से रणनीति भी तैयार की जा रही है. वहीं, विकास मुंडा के करीबियों का कहना है कि विपक्ष के सभी दलों से संपर्क स्थापित कर आपसी सहयोग की बातें की जा रही है. जल्द ही इस संबंध में कोई अंतिम फैसला ले लिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – भाजपा का “मैं भी चौकीदार” कार्यक्रम 31 मार्च को, शहर भर में लगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के होर्डिंग्स

क्या कहते हैं विधायक विकास मुंडा

विधायक विकास मुंडा का कहना है कि अब उनका राजनीतिक झुकाव राजग की तरफ नहीं है. विपक्ष की तरफ से उनसे सहयोग मांगा जा रहा है. दूसरे दल में जाने के मुद्दे पर भी उन्होंने कहा कि यह सब बातें फोन पर नहीं होती हैं. रांची लौटने पर सब कुछ स्पष्ट हो जायेगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: