JharkhandLatehar

हेमंत सोरेन ने कहा,  पूरे राज्य में निराशा दिख रही है, भाजपा वाले डिजिटल लुटरे हैं,  सावधान रहें

Latehar : लातेहार जिले में गांव से शहर तक जो स्थिति बनी हुई है उससे पूरे राज्य में निराशा दिख रही है.  किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें गहरा रही हैं.  किसानों ने कर्ज लेकर खेती की है,  खेती अच्छी नहीं हुई तो कर्ज वापस कैसे होगा. बारिश के अभाव में खेती नहीं होने से परिवार का पेट कैसे भरेगा. बच्चो की फीस  कैसे जमा होगी. उक्त बातें प्रतिपक्ष के नेता सह पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कही. वे जिला खेल स्टेडियम के समीप आयोजित झामुमो की बदलाव यात्रा सह जनसभा के 5 वे पड़ाव को संबोधित कर रहे थे.  उन्होंने कहा कि भाजपा ने पूरे राज्य की स्थिति बद से बदतर कर दी है. आनेवाला समय बहुत बुरा होने वाला है.

लातेहार जिला जंगलो पहाड़ों से भरा पड़ा है. यहां की स्थिति किसी से छुपी नहीं है. पूरे राज्य में कुछ भी ठीक नही चल रहा है और इस स्थिति में झामुमो चुप नही रह सकता है. इसलिए बदलाव यात्रा निकाली गयी है. उन्होंने कहा कि भाजपा वाले डिजिटल लुटरे हैं.  तकनीक के माध्यम से आपका सबकुछ लूटने की रणनीति बनाते हैं,  जिससे सावधान रहने की जरूरत है.

इसे भी पढ़ेंः13 महीने के वेतन पर बोले पुलिस कर्मी- हमें सरकारी कैलेंडर में जितनी छुट्टी है दे दें और कुछ नहीं चाहिए

बिना पानी के शौचालय की स्थिति और उसकी उपयोगिता क्या है

हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री रघुवर दास को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि रघुवर सरकार ने गांव गांव में डोभा बनवा दिये. कहा गया कि डोभा में मछली पालन और उसके पानी से खेती की जायेगी.   कुछ तो हुआ नहीं, लेकिन गांव के बच्चे डोभा में डूबकर जरूर मारे गये.  उन्होंने कहा कि इस सरकार ने स्वच्छता अभियान के तहत पूरे राज्य में कुकुरमुत्ते की तरह बिना पानी टंकी के शौचालय बना दिये. बिना पानी के शौचालय की स्थिति और उसकी उपयोगिता क्या है किसी से छिपा नहीं है. उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि भाजपा वाले ही बिना पानी के शौचालय जाते होंगे. बेईमान लोगों ने शौचालय में भी कमीशन खोरी कर जेब भरने का काम किया है.

इस क्रम में  हेमंत ने कहा कि पीएम आवास के मकान ऐसे हैं, जो जेल की कोठरी एवं गोहाल से भी बदतर है. क्या हम आदिवासी दलित, पिछड़ा अल्पसंख्यक नमक के बोरे है?  उन्होंने कहा कि हम सभी संकल्प लें कि सरकार बदलेंगे. आने वाले समय में ऐसा घर बनाएंगे जहां बिजली पानी,  बुजुर्गो के लिए अलग कमरे एवं बेटे बेटियों के लिए अलग कमरे होंगे.  आवास तीन लाख के होंगे. इसके लिए लाभुकों को कर्ज नहीं लेना होगा.

इसे भी पढ़ेंःभूल गयी सरकार : CM ने 2 हजार वनरक्षी के पदों पर नियुक्ति का किया था वादा, एक साल से इंतजार में युवा

पीएम आवास में खुलकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है

हेमंत ने कहा,  चुनाव नजदीक है इसलिए रघुवर दास  अपनी उपलब्धि का गांव गांव में प्रचार प्रसार करवा रहे हैं. पीएम आवास में खुलकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है.  बिना घूस के आवास स्वीकृत नहीं हो रहे हैं. आवास पूरा करने के लिए लाभुकों को साहूकारों से कर्ज लेना पड़ रहा है. इसका समर्थन वहां मौजूद ग्रामीणों की भीड़ ने किया.   हेमंत ने कहा कि भाजपा सरकार हम आदिवासी दलित पिछडों को मान सम्मान के नाम पर बेइज्जत कर रही है. यह सरकार आपस में लड़ाकर  आरक्षण समाप्त करने की बात करती है. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बनी तो 75 प्रतिशत नौकरी यहां के लोग करेंगे.

adv

यह  सरकार  लोगों की जान ले रही है. ये विकास की नहीं विनाशी सरकार है.जिसे बदलना बहुत जरूरी है.  कहा कि हमने अपने 14 माह के कार्यकाल के दौरान सिकनी कोलियरी खुलवाई. जिसकी स्थिति आपके सामने है.  चंदवा प्रखंड में पावर प्लांट की कंपनियां खुलकर बंद हो गयी. जिससे बहुत से रैयत भूमिहीन  हो गये. उन्होंने कहा कि हमारा खेत ही एटीएम है और खलिहान माता. जिसे लूटने का काम भाजपा सरकार ने किया है. हमारी सरकार बनी तो भूमिहीन सरकार पर केस ठोकेगा और मालिक बनेगा. 25 करोड़ का ठेका यहां के लोग करेंगे.

पूर्व भू राजस्व मंत्री दुलाल भुइयां ने कहा कि खेत गुरुजी का, जमीन हेमंत का और फसल काटे भाजपा के लोग. ये विचार करना होगा. आदिवासी दलित पिछड़ा, अल्पसंख्यक व आम लोगो को फैसला करना होगा कि लूट कौन रहा है.  उन्होंने कहा कि अब  समय नहीं रहा.  हम लोग सब कुछ लुटा जायेंगे. उन्होंने कहा कि गांव गांव से भाजपा को जड़ से मिटाने का समय आ गया है. झामुमो का एक एक सिपाही से यह संकल्प लेने का समय आ गया है.  नहीं तो हमलोगों की पहचान के साथ साथ जल,जंगल, जमीन को ही समाप्त कर दिया जायेगा. उन्होंने लोगो से झामुमो व हेमंत को सपोर्ट करने की अपील की.

इसे भी पढ़ेंः क्या #GharGharRaghubar अभियान को बीजेपी ने नकार दिया!

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: