GiridihJharkhandTOP SLIDER

हेमंत सरकार झारखंड में कांग्रेस के वजूद को खत्म करने पर तुली है- स्वास्थ्य मंत्री

कांग्रेस के चिंतन शिविर के अंतिम दिन हिंदी भाषा को लेकर दिया बयान

Giridih: कांग्रेस के चिंतन शिविर ने एक तरह से हेमंत सरकार को सीधे तौर पर चिंता में ला खड़ा कर दिया है. चिंतन शिविर में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता अपने ही सरकार पर हमलावर हो गए. उन्होंने कहा कि हेमंत सरकार झारखंड में कांग्रेस के वजूद को खत्म करने पर तुली हुई है. बता दें कि स्वास्थ्य मंत्री ने ये बातें कांग्रेस के चिंतन शिविर के अंतिम दिन हिंदी भाषा को लेकर कही. उन्होंने कहा कि हेमंत सरकार देश के मातृ भाषा हिंदी को हीं राज्य के रीजनल सूची से हटाने को लेकर निर्णय लेने वाली है. यदि सरकार ऐसा करती है तो सीधे तौर पर कांग्रेस का वजूद राज्य में खत्म हो जाएगा.

इसे भी पढ़ें: UP Election 2022: यूपी चुनाव के चौथे चरण में 59 सीटों पर वोटिंग जारी

उन्होंने कहा कि हिंदी भाषा को लेकर हेमंत सरकार जो फैसला लेने वाली है, उसके कारण झारखंड में कांग्रेस का अस्तित्व खत्म होना तय है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जब पार्टी ही नही बचती है तो फिर उनके हेमंत सरकार में उनके रहने का कोई औचित्य हीं नहीं है. स्वास्थ मंत्री बन्ना गुप्ता ने चिंतन शिविर के दौरान कांग्रेस के राज्य प्रभारी समेत 147 प्रतिनिधि के बीच हेमंत सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अच्छा होगा की वो मंत्री मंडल से ही इस्तीफा दे दें, क्योंकि जब हेमंत सरकार कांग्रेस के अस्तित्व को खत्म करने को लेकर उतारू है तो सरकार में रहना उनके लिए संभव नहीं. उन्होंने कहा कि हमें ये तय करना होगा कि हमारा सिद्धांत और विचारधारा कभी कमजोर न हो. राष्ट्रभाषा के साथ और जनता के सम्मान के साथ कभी समझौता नहीं किया जा सकता.

शिविर के संबोधन के दौरान स्वास्थ मंत्री ने अपने विधानसभा का हवाला देते हुए कहा की उन्होंने मेहनत के बाद अपने विधानसभा जमशेदपुर से एक लाख वोट हासिल कर चुनाव जीता है. इसी वोटर को हेमंत सरकार ऐसे फैसले लेकर कांग्रेस के वोटर को अपने तरफ खींचने में लगी हुई है.

 

Related Articles

Back to top button