JharkhandRanchi

हेमंत सरकार ने #Corona महामारी पर की गयी पहल का पेश किया रिपोर्ट कार्ड

Ranchi: कोरोना महामारी से लड़ाई को लेकर हेमंत सरकार ने अब तक जो पहल की है, उसका एक रिपोर्ट कार्ड पेश किया है. रिपोर्ट कार्ड में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा मुख्यमंत्री दीदी किचन, सभी थानों में सामुदायिक किचन, कोविड – 19 रिस्पांस टीम, प्रवासी मजदूरों को सरकार के स्तर पर मदद पहुंचाने सहित कई बातों का जिक्र किया गया है.

यह रिपोर्ट कार्ड 20 अप्रैल तक के लिए है. मुख्यमंत्री सोरेन ने कहा है कि झारखंड के लोग कभी अंग्रेजों के सामने नहीं झूके, ऐसे में बड़ी से बड़ी बाधा से भी हम अवश्य पार पा लेंगे. उन्होंने कहा कि सरकार अब तक की कोरोना से संघर्ष का रिपोर्ट कार्ड पेश कर रही है.

इसे भी पढ़ें- #Maharashtra में सीएम हाउस तक पहुंचा कोरोना, राजस्थान में 64 नये केस सामने आने के बाद 1,799 संक्रमित

Sanjeevani

झारखंड में संक्रमण मुक्त हो रहे मरीज

हम यह संघर्ष मुख्य रूप से दो मोर्चों पर लड़ रहे हैं. पहला संक्रमण और दूसरा भूख व गरीबी के खिलाफ. अपने सीमित संसाधनों के बावजूद पूरी शक्ति से लड़ रहें है और इसमें सफलता में मिल रही है.

उन्होंने कहा कि संक्रमण रोकने के लिए जहां हम जांच केंद्रों की संख्या बढ़ा रहें हैं, वहीं हम अब रैपिड टेस्ट किट और पुल टेस्टिंग के माध्यम से और भी तेजी से बड़ी संख्या में जांच करेंगे. सीएम ने खुशी जाहिर की है कि झारखंड में लोग संक्रमण मुक्त यानि की स्वस्थ भी हो रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- #Covid-19 रोगियों के इलाज के लिए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के इस्तेमाल से कोई लाभ नहीं

सीएम किचन, सामुदायिक रसोई को पूरे देश में सराहा जा रहा

मुख्यमंत्री ने कहा कि भूख के विरुद्ध मुख्यमंत्री दीदी किचन, पुलिस थानों में सामुदायिक रसोई, मुख्यमंत्री किचन के मॉडल को पूरे देश में सराहा जा रहा है. सबसे बड़ी बात है कि कोई भी झारखंड वासी आज भूखा नहीं सो रहा है.

उन्होंने राज्यवासियों को विश्वास दिलाते हुए कहा है कि हर एक झारखंडी चाहे वो अन्य राज्यों में फंसे मज़दूर, छात्र, कामगार या फिर व्यवसायी हों. उन तक मदद जरूर पहुंचेगी.

सीएम ने कहा है कि सभी से बस एक निवेदन है कि आपस में दूरी बनाएं, पर दिलों को जोड़े रखें. नकारात्मक शक्तियां नफरत फैला अपना हित साधने की कोशिश कर रही है. लेकिन उन्हें कामयाब नहीं होने देना है.

इसे भी पढ़ें- #Corona: यह दिन हमें भावनात्मक रूप से बुद्धिमान दयालु प्रशासक बनने के लिए प्रेरित करता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button