JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

हेमंत सरकार ने पहली सीएसआर नीति को दी मंजूरी: पोषण, स्वास्थ्य, शिक्षा, खेल और आजीविका के क्षेत्र में हो सकेगा बदलाव

Ranchi : हेमंत सोरेन सरकार में पहली सीएसआर नीति को मंजूरी दे दी है. बुधवार को कैबिनेट की बैठक में राज्य सरकार की इस नीति को मंजूरी मिली है.

झारखंड सीएसआर नीति 2020 के लक्ष्य को साकार करने के लिए मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में उद्योग विभाग के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत झारखंड कॉरपोरेट सामाजिक दायित्व प्राधिकरण का गठन किया जाएगा.

यह प्राधिकरण राज्य में सीएसआर निवेश बढ़ाने की दिशा में काम करेगा. झारखंड सीएसआर प्राधिकरण की स्थापना के पश्चात झारखंड सीएसआर परिषद स्वतः भंग हो जाएगा.

SIP abacus

इसे भी पढ़ें : हाल-ए-पार्किंग: एचबी रोड में दो बड़े हॉस्पिटल और कई मार्केंटिग कॉम्पलेक्स, पार्किंग की व्यवस्था नहीं, कैसे मिलेगी जाम से राहत!

Sanjeevani
MDLM

क्या है सीएसआर नीति लाने का उद्देश्य

राज्य में पोषण, स्वास्थ्य, शिक्षा, खेल और आजीविका के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने और लोगों को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने की चुनौतियों से निपटने एवं अनुकूल वातावरण बनाने की दिशा में सरकार ने इस नीति को मंजूरी दी है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का मानना है कि नई सीएसआर नीति की मदद से राज्य सरकार, कॉरपोरेट्स, सिविल सोसाइटी व अन्य संगठनों के बीच साझेदारी बनेगी और उनकी प्राथमिकताओं और गतिविधियों को सुव्यवस्थित करना आसान होगा.

प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में योजनाओं को लागू करने में सहूलियत होगी और योजनाओं से जरूरतमंद लोग लाभान्वित हो सकेंगे. नई नीति के साथ कॉरपोरेट्स को प्राथमिकताओं के क्षेत्रों के बारे में सही जानकारी मिलेगी. पूर्व में नीति के अभाव में कॉरपोरेट घराने परियोजनाओं के चयन में कठिनाई का अनुभव करते थे. लेकिन अब, नई नीति के लागू होने से दीर्घकालिक मजबूत विकास की योजना को बल मिलेगा.

इसे भी पढ़ें : सरकारी नौकरी : अगर आप ITI पास हैं तो 300 पोस्ट पर नौकरी करने का है सुनहरा मौका

सीएसआर पोर्टल हितों को करेगा सुनिश्चित

नई नीति के तहत पारदर्शिता लाने और कुशल और निर्बाध सूचना सुनिश्चित करने के लिए सीएसआर पोर्टल शुरू किया जायेगा. सीएसआर पोर्टल को प्राधिकरण की देखरेख में बनाया जाएगा. सीएसआर पोर्टल में सेक्टर, जिलों, विभागों इत्यादि के अनुसार सीएसआर के तहत वित्त पोषित की जा रही वर्तमान योजनाओं का विवरण होगा.

इसके अतिरिक्त सीएसआर फंडिंग, सीएसआर फंडिंग की नीति और परिचालन दिशानिर्देश, परियोजना प्रस्ताव के लिए प्रारूप, कॉरपोरेट पंजीकरण फॉर्म, एमओयू, इत्यादि से संबंधित अन्य सभी विवरण पोर्टल पर उपलब्ध होगा.

इसे भी पढ़ें : नागरिकों के लिए खुला बिरसा चौक का गेट, जाकिर हुसैन पार्क के पास अब 14वें वित्त कर्मी देंगे धरना

Related Articles

Back to top button