न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हेमंत मंत्रिमंडल : ओबीसी,  एसटी और फारवर्ड कोटे से होंगे कांग्रेस के मंत्री!

17 को कांग्रेस के नवनिर्वाचित विधायकों संग सोनिया गांधी की होगी बैठक

3,422

Ranchi : हेमंत सरकार में कांग्रेस कोटे से तीन अन्य मंत्री कौन होंगे, इसके लिए दिल्ली में रायशुमारी चल रही है. बताया जा रहा है कि सोमवार को यूपीए की बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के भाग लेने के बाद कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से मंत्रियों को लेकर बातचीत हुई है. कांग्रेस के दो मंत्रियों के शपथ लेने के बाद से ही अन्य तीन मंत्री बनाने के लिए नामों पर चर्चा हो रही है.

पार्टी के कोटे से बनने वाले तीन मंत्रियों में दो पर सहमति बनी है. वहीं महिला कोटे से एक नाम को लेकर किचकिच है. जिसे निपटाने की कवायद चल रही है. बताया जा रहा है कि जातीय समीकरण के आधार पर तीन मंत्रियों के नामों पर मुहर लगेगी. सूत्रों के अनुसार अन्य तीन मंत्री ओबीसी, एसटी और फारवर्ड कोटे से लिये जायेंगे. गौरतलब है कि राज्य गठन के बाद पहली बार 2019 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 16 सीटें मिली है.

Sport House

इसे भी पढ़ें : विनय चौबे का सीएम का प्रधान सचिव बनना तय, कार्मिक ने सुनील बर्णवाल समेत चुनाव आयोग भेजे तीन नाम

17 जनवरी को होगी बैठक

दूसरी और राज्य विधानसभा चुनाव में जीते कांग्रेस के नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ होगी. बैठक आगामी 17 जनवरी को दिल्ली में राष्ट्रीय अध्य़क्ष के आवास पर होगी. बैठक में भाग लेने के लिए कई विधायक पहले ही दिल्ली पहुंच चुके है.

वहीं बाकि विधायक 16 जनवरी गुरुवार को दिल्ली जायेंगे. चुनाव जीतने के बाद सोनिया गांधी के साथ नवनिर्वाचित विधायकों की यह पहली बैठक होगी. वहीं कांग्रेस कोटे से मंत्री बनने को लेकर दिल्ली पहुंचे विधायक लगातार लॉबिंग कर रहे हैं.

Mayfair 2-1-2020

इसे भी पढ़ें : कोयलांचल में आतंक बने गैंगस्टर अमन श्रीवास्तव गिरोह के 11 अपराधी गिरफ्तार

16 या 19 को हो सकता है मंत्रियों का शपथ ग्रहण

राजनीतिक गलियारों में यह बात चर्चा में है कि 15 जनवरी तक अगर मंत्रियों के नामों पर पूरी सहमति बनती है, तो 16 जनवरी को राजभवन में शपथ दिलायी जा सकती है. अगर पेंच बना रहता है, तो 19 को मंत्रियों को शपथ दिलायी जायेगी. बता दें कि हेमंत सरकार के शपथ लेने के बाद ही अधिकांश विधायक दिल्ली में डेरा जमाये हुए हैं.

इससे पहले कांग्रेस कोटे से दो मंत्रियों प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव और विधायक दल के नेता आलमगीर आलम को शपथ दिलायी जा चुकी है. विधानाध्यक्ष पद जेएमएम के पाले में जाने के बाद यह तय है कि कांग्रेस कोटे से पांच को मंत्री बनाया जाना है.

इसे भी पढ़ें : नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी रांची देश की दूसरी सबसे महंगी यूनिवर्सिटी, सिर्फ सीट में आरक्षण फीस में नहीं 

 

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like