न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पहाड़ों पर प्रचंड बर्फबारी, देश ठंड के आगोश में, कंपकंपा रहे हैं लोग

जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश झारखंड में इन दिनों पड़ रही हड्‍डी जमा देने वाली ठंडक से लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है.

915

NewDelhi : पहाड़ों पर प्रचंड बर्फबारी हो रही है. इसका असर देश के कई राज्यों में पड़ा है. देशभर में ठंड का जबरदस्त प्रकोप है.  करोड़ों लोग ठंड से कंपकंपा रहे हैं. बता दें कि जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश झारखंड में इन दिनों पड़ रही हड्‍डी जमा देने वाली ठंडक से लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है.  जम्मू कश्मीर की डल झील् जमने लगी है. पहाड़ी क्षेत्रों से आ रही तीखी बर्फीली हवा की चुभन से बचने के लिए लोगों को गर्म कपड़ों के अलावा अलावों का सहारा लेना पड़ रहा है. हिमाचल प्रदेश के पर्यटन स्थल लाहौल स्पीति में पारा शून्य से 2 डिग्री चला गया है. राजधानी शिमला में 4.6, धर्मशाला में तापमान 5.3 डिग्री सेल्सियस रहा.  ऊपरी पहाड़ी इलाकों में भी जमकर बर्फ पड़ रही है . लेह में माइनस 12 तापमान दर्ज किया गया.  रुद्र प्रयाग में पिछले तीन दिनों से लगातार बर्फबारी हो रही है . सर्द हवाओं की वजह से यहां के लोगों की हड्‍यिां तक कांप रही हैं .  केदारनाथ धाम में भी बर्फबारी से रविवार को राहल मिली .  यहां पर आसमान से गिर रही आफत जरूर कम हुई लेकिन बर्फबारी के कारण 2 से 3 फीट तक बर्फ जमा हो गई है, जिसे हटाने का काम शुरू हो चुका है.

माउंट आबू में पारा माइनस 2.4 डिग्री सेल्सियस

पहाड़ों की रानी कहे जाने वाले मसूरी में 4 डिग्री और देहरादून में 5.2 डिग्री तापमान रहा.  अमृतसर में 4 डिग्री, श्रीनगर में 5.6 डिग्री, गुलमर्ग में 9.5 डिग्री और दिल्ली से सटे गुरुग्राम में 4.2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. राजस्थान के चुरु में गर्मी भी सबसे ज्यादा पड़ती है और ठंड भी .  रविवार को चुरु में 2.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ जबकि माउंट आबू में माइनस 2.4 डिग्री सेल्सियस. फतेहपुर शेखावटी में भी हड्‍डियां गला देने वाली ठंड पड़ रही है .  यहां का तापमान 2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है .  राजस्थान के इस इलाके में गर्मी के दिनों में पारा 50 डिग्री सेल्सियत तक पहुंच जाया करता है . राजस्थान के लिए मौसम विभाग का कहना है कि शीत का प्रकोप अगले एक दो दिन और रहने वाला है.

यहां के लोगों को अगले 48 घंटों में जानलेवा ठंड से राहत नहीं मिलने वाली है . सीकर भी ठंड की मार से अछूता नहीं है. रविवार को यहां पर सिंचाई वाले पाइपों पर मोटी बर्फ की परत जमी रही .  इतना ही नहीं, फसलों पर भी बर्फ जमी रही.  शहर से गांव तक लोग अलाव जलाकर ठंड से निजात पाने की कोशिश करते रहे .

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: