NationalWest Bengal

24 घंटे तक बंगाल में आंधी तूफान के साथ भारी बारिश के आसार, अरब महासागर में बन रहा कम दबाव हो सकता है खतरनाक

Kolkata :  राजधानी कोलकाता समेत राज्य के अन्य हिस्से में आगामी 24 घंटे तक आंधी तूफान के साथ भारी बारिश के आसार हैं. अलीपुर स्थित मौसम विभाग के क्षेत्रीय मुख्यालय ने रविवार सुबह जारी बयान में यह दावा किया है.

इसमें बताया गया है कि राजधानी कोलकाता के अलावा हावड़ा, हुगली, उत्तर और दक्षिण 24 परगना, पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर, बांकुड़ा, पुरुलिया जिले में भारी बारिश होगी.

इसे भी पढ़ेंः कुछ अलग : लॉकडाउन की वजह से शादियों में बैंड, बाजा, बारात की जगह मास्क, सेनिटाइजर्स और सादगी

इसके साथ ही 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं. सोमवार को गंगा के तटीय क्षेत्रों में अधिक बारिश होगी. रविवार को राजधानी कोलकाता में न्यूनतम तापमान 25.8 डिग्री सेल्सियस है जो सामान्य है जबकि अधिकतम तापमान 35.5 डिग्री सेल्सियस पर जा पहुंचा है.

सोमवार से उत्तर बंगाल में भी बारिश होगी. यानी दार्जिलिंग, कलिंम्पोंग, अलीपुरद्वार, जलपाईगुड़ी, कूचबिहार सहित अन्य जिले में भारी बारिश हो सकती है.

इसे भी पढ़ेंः #Unlock1.0 : 1 जून से झारखंड में शुरू नहीं हो पायेगी स्कूलों में पढ़ाई

अरब सागर में हवा का कम दबाव वाला क्षेत्र ले सकता है चक्रवाती तूफान का रूप

इधर, मुंबई से आ रही खबरों में कहा गया है कि अरब सागर में हवा का कम दबाव का क्षेत्र बन गया है, जो चक्रवाती तूफान का रूप ले सकता है और यह तीन जून तक महाराष्ट्र तथा गुजरात की ओर बढ़ सकता है.

क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘दक्षिणपूर्व और पूर्वी मध्य अरब सागर तथा लक्षद्वीप के ऊपर एक निम्न वायु दाब क्षेत्र बन गया है….’’

मौसम विभाग ने  कहा कि निम्न वायु दाब क्षेत्र आगे चल कर चक्रवाती तूफान का रूप ले सकता है, जिसके उत्तर की ओर बढ़ने और तीन जून तक उत्तर महाराष्ट्र तथा गुजरात तट पहुंचने की संभावना है.

विभाग ने कहा, ‘‘अगले 24 घंटों में इसके पूर्वी मध्य एवं इससे लगे दक्षिण पूर्वी अरब सागर के ऊपर निम्न वायु दाब और अधिक प्रबल होने की संभावना है.’’

इसे भी पढ़ेंः #Corona की वैक्सीन विकसित करने में लगी टीम का हिस्सा बनी बंगाली मूल की वैज्ञानिक

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close