Court NewsJharkhandRanchi

नक्सली कुंदन पाहन की जमानत याचिका पर एनआइए की विशेष अदालत में हुई सुनवाई

Ranchi: पूर्व मंत्री व तमाड़ के तत्कालीन विधायक रमेश सिंह मुंडा की हत्या समेत कई चर्चित मामलों के आरोपी नक्सली कुंदन पाहन की जामनत याचिका पर आज एनआईए की विशेष कोर्ट में सुनवाई हुई. मामले की सुनवाई करते हुए रांची एनआईए की स्पेशल कोर्ट ने एनआईए से कुछ बिंदुओं पर जवाब तलब किया जिसके जवाब के लिए एनआईए के अधिवक्ता ने अदालत से और समय देने का आग्रह किया. ऐसे में एनआईए की स्पेशल कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 25 नवंबर की तारीख निर्धारित की है.

बता दें कि कुंदन पाहन ने राज्य सरकार की सरेंडर नीति के तहत साल 2017 में आत्मसमर्पण किया था. उसके बाद जेल में रहकर विगत विधानसभा चुनाव में भी अपनी किस्मत आजमाई थी. लेकिन उसे जनता का समर्थन नहीं मिला.

इसे भी पढ़ें:सरना घर्म कोड व संताली राजभाषा भाषा मान्यता के लिए 15 नवंबर को मनेगा संकल्प दिवस : सालखन

झारखंड पुलिस ने 15 लाख रुपये का रखा था इनाम

कुंदन पाहन के ऊपर 5 करोड़ नकद समेत 1 किलो सोने की लूट, स्पेशल ब्रांच के इंस्पेक्टर फ्रांसिस इंदवार और पूर्व मंत्री रमेश सिंह मुंडा की हत्या के अलावा दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं.

ऐसे में उसे पकड़ने के लिए या फिर उसकी जानकारी देने के लिए झारखंड पुलिस ने उस पर 15 लाख रुपये का इनाम रखा था.

इसे भी पढ़ें:पूर्वी सिंहभूम जिले के 263 केंद्रों पर हुआ नेशनल अचीवमेंट सर्वे परीक्षा का आयोजन

अपने गांव लौटकर परिवार के साथ समय बिताना चाहता है

मालूम हो कि आत्मसमर्पण के 4 साल बीतने के बाद सरेंडर कर चुके नक्सली कुंदन पाहन ने कोर्ट से जमानत की गुहार लगायी है. अब वह ओपन जेल की चहारदीवारी से बाहर आने की कोशिश में हैं. कुंदन पाहन अपने गांव लौटकर परिवार के साथ समय बिताना चाहता है. इसलिए जमानत के लिए कोर्ट में अर्जी दी है.

कुंदन पाहन के अधिवक्ता ईश्वर दयाल किशोर के मुताबिक, कुंदन पाहन ने अपनी कस्टडी की अवधि को जमानत का आधार बनाकर न्यायालय से उसे बेल देने की गुहार लगाई है.

इसे भी पढ़ें:सांप काटने के 28 घंटे बाद युवक की हुई मौत, वाइपर को अजगर समझ गया था पकड़ने

Advt

Related Articles

Back to top button