JharkhandLead NewsNEWSRanchi

पूर्व मंत्री रमेश सिंह मुंडा हत्याकांड मामले में नक्सली कुंदन पाहन की जमानत याचिका पर सुनवाई टली

Ranchi: एनआईए की स्पेशल कोर्ट में आत्मसमर्पण कर चुके नक्सली कुंदन पाहन की जमानत याचिका एक बार फिर सुनवाई टल गई है. एनआईए कोर्ट में दाखिल जमानत याचिका पर आज सुनवाई होने वाली थी, लेकिन किसी कारणवश नहीं हो पाई. बता दें कि न्यायिक हिरासत में 4 साल बिताने और सरकार के सरेंडर पॉलिसी के तहत आत्मसमर्पण करने का हवाला देते हुए कुंदन पाहन ने अपनी जमानत के लिए गुहार लगाई है. पूर्व मंत्री और तमाड़ के तत्कालीन विधायक रमेश सिंह मुंडा की हत्या समेत कई चर्चित घटनाओं को अंजाम देने के आरोपी कुंदन पाहन फिलहाल अभी ओपन जेल हजारीबाग में है. कुंदन पाहन के अधिवक्ता ईश्वर दयाल किशोर के मुताबिक कुंदन पाहन ने अपनी कस्टडी की अवधि को जमानत का आधार बनाया है. इसी को लेकर कुंदन पाहन ने न्यायालय से बेल देने की गुहार लगाई है.

इसे भी पढ़ेंःRanchi News: अब यदि लॉज-हॉस्टल, बैंक्वेट के लिए लाइसेंस लेना है तो जरूरी है कि पड़ोसी आपकी शिकायत करे

मालूम हो कि झारखंड का कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन ने राज्य सरकार की आत्मसमर्पण नीति के तहत साल 2017 में सरेंडर किया था. उसके बाद जेल में रहकर कुंदन ने पिछले विधानसभा चुनाव में भी अपनी किस्मत आजमाई थी. लेकिन इस चुनाव में जनता ने उन्हें नकार दिया और ना ही उसे अपना समर्थन दिया. 5 करोड़ नकद समेत 1 किलो सोने की लूट, स्पेशल ब्रांच के इंस्पेक्टर फ्रांसिस इंदवार और पूर्व मंत्री रमेश सिंह मुंडा की हत्या के अलावा कुंदन पाहन के ऊपर कई मुकदमे दर्ज हैं. कुंदन पाहन पर झारखंड पुलिस ने 15 लाख रुपया का इनाम रखा था.

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: