DumkaHEALTH

दुमका में सात महीने से वेतन की बाट जोह रहे स्वास्थ्यकर्मी पहुंचे भुखमरी के कगार पर !

Dumka: झारखंड चिकित्सा एवं जन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ, दुमका का शिष्टमंडल सिविल सर्जन दुमका से झारखंड राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के जिला सचिव सह राज्य सचिव साथी राजीव नयन तिवारी के नेतृत्व में मिला. शिष्टमंडल वार्ता के क्रम में विभाग के लंबित मांगो पर पर चर्चा हुई. जिसमें स्वास्थ्य विभाग के मुख्य शीर्ष 2211 के कर्मियो, जिन्हें पिछले सात महीने से वेतनादि का भुगतान नही किया गया है. फलतः कर्मियो के समक्ष वेतनादि के अभाव में भुखमरी की स्थिति है, इनके वेतनादि का भुगतान दशहरा प्रथम पूजा के पूर्व करने का शिष्टमंडल ने आग्रह किया. शीर्ष 2211 के कर्मियो को शीर्ष 2210 में समायोजन करने एंव जीपीएफ की कटौती की विवरणी संघ को उपलब्ध कराने के साथ साथ कर्मियो का देय एमएसीपी का लाभ यथाशीध्र दिया जाय. संघ महासंघ के शिष्टमंडल ने वार्ता के क्रम में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रानेश्वर के चतुर्थ वर्गीय कर्मी श्रीकुमार मिश्र जिनका मार्च 2019 से अब तक वेतन लंबित है साथ ही इसी केंद्र के अरविंद कुमार गुप्ता जिनका WP(S) No 3002/2021 में पारित माननीय उच्च न्यायालय झारखंड के न्यायदेश के अनुपालन में असैनिक शाल्य चिकित्सक सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी दुमका के आदेश ज्ञापांक 3084 दिनांक 22 जुलाई 2022 के दुवारा अरबिंद कुमार गुप्ता का वेतनादि की भुगतान का स्वीकृति दी गयी है किंतु अब तक श्रीगुप्ता एवं श्री मिश्रा के वेतनादि का भुगतान नही किया गया है. जो अत्यंत ही खेदजनक है.
इसे भी पढ़े: FJCCI Election: अध्यक्ष धीरज तनेजा ने कहा,आर्थिक स्थिति सुधारने की है जरूरत

सिविल सर्जन ने दिया आश्वासन

वार्ता के क्रम में सिविल सर्जन दुमका ने उपरुक्त सभी मांगो का त्वरित निष्पादन करने का आश्वासन संघ महासंघ के प्रतिनिधि मंडल को दिया. प्रतिनिधि मंडल ने महासंघ के साथी राजीव नयन तिवारी, ओमप्रकाश चौबे एंव चिकित्सा संघ के कैलाश प्रसाद साह, तपन कुमार ठाकुर, शेलेन्द्र कुमार, सच्चिदानंद सोरेन, अजितेश राय, श्रीमंत दास, गीता कुमारी, प्रेमलता हेम्ब्रम, रीता रानी मंडल, मंगला रानी घोष, किरण कुमारी, उषा कुमारी, सुचित्रा रानी घोष आदि उपस्थित थे.

Related Articles

Back to top button