Corona_UpdatesDumkaHEALTHJharkhand

दुमका में सिर्फ 4 वेंटिलेटरों के भरोसे है स्वास्थ्य व्यवस्था, जिले में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले

Ranchi: दुमका में भी कोरोना ने पांव फैलाना शुरु कर दिया है. दूसरी लहर ने लोगों की बेचैनी बढ़ा दी है. इससे भी बड़ी चुनौती यह है कि पूरा जिला सिर्फ 4 वेंटिलेटरों के भरोसे है. ऐसे में सांसद सुनील सोरेन ने स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर सवाल उठाया है.

उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता को लेटर लिखकर कहा है कि केंद्र सरकार से 21 वेंटिलेटर मिले हैं. लेकिन 4 वेंटिलेटरों के जरिये ही काम चलाया जा रहा है. सभी वेंटिलेटरों को जरूरी मैनपावर के साथ चालू किया जाय. इसके अलावे भी उन्होंने कई बिंदुओं पर काम करने का आग्राम किया है.

advt

इसे भी पढ़ें :कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने को लेकर एसडीओ ने सील किया क्लीनिक 

सुबह से ही शरू हो कोरोना जांच

सुनील सोरेन के मुताबिक लोगों को कोरोना जांच में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में सुबह से ही जांच का कार्य शुरू की जानी चाहिए. टेस्ट रिपोर्ट 12 घंटों में लोगों को मिल जाये, यह तय किया जाय.

इससे समय रहते संक्रमित लोगों का ईलाज शुरू किया जा सकेगा. फूलो झानो मेडिकल कॉलेज, दुमका में कोरोना जांच और वैक्सिनेशन एक ही भवन में चल रहा है. इसे दूर किया जाये.

18 कोरोना संक्रमितों की मौत

गौरतलब है कि दुमका में कोरोना के अभी 508 एक्टिव केस हैं. 1428 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किये जा चुके हैं. 18 लोगों को कोरोना के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी है. फिलहाल यहां कुल पॉजिटिव केसों की संख्या 1954 है. जिला प्रशासन लगातार अपनी ओर से कोरोना केयर सेंटर को दुरूस्त करने और टेस्टिंग बढ़ान की कोशिश कर रहा है.

इसे भी पढ़ें :JHARKHAND NEWS: जेबीवीएनएल ने पुराने बिलिंग एजेंसियों को बदला, अब नये एजेंसियां देखेंगी काम

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: