JamshedpurJharkhand

Jamshedpur : आश्वासन देकर भूल गए स्वास्थ्य मंत्री, वेतन नहीं मिलने से एमजीएम के जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर, मरीज परेशान

Jamshedpur : कोल्हान के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एमजीएम का हाल एक बार फिर बेहाल हो चला है. सोमवार को वेतन नहीं मिलने ने अस्पताल के जूनियर डॉक्टर दो दिनों के लिए हड़ताल पर चले गए है. इससे ओपीडी के अलावा अन्य विभाग के जूनियर डॉक्टरों द्वारा काम ठप हो गया है जिससे मरीजों की भीड जमा हो गई है. सबसे बुरे हालात ओपीडी का है. ओपीडी के बाहर मरीजों की लंबी कतार देखने को मिली. रविवार को ओपीडी सेवा बंद रहती है जिसके बाद सोमवार को भीड़ बढ़ जाती है. जूनियर डॉक्टरों का कहना है कि अब उन्हें आश्वासन नहीं चाहिए, जब तक वेतन का भुगतान नहीं हो जाता तब तक हड़ताल जारी रहेगी.
बता दें की ये तमाम डाक्टर वेतन नहीं मिलने से नाराज है. विगत पांच महीनों से डाक्टरों को वेतन नहीं मिला है. ऐसे मे पूर्व से ही ये सभी आंदोलित है. बीते 17 जून को भी इनके द्वारा हड़ताल किया गया था. उसी दिन राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने इन्हे आश्वाशन दिया था की 10 दिनों के भीतर वेतन का भुगतान कर दिया जायेगा. लेकिन समय सीमा के बाद भी इनका वेतन निर्गत नहीं किया गया. फलस्वरूप इन्होने सोमवार से फिर से दो दिवसीय हड़ताल की घोषणा की ओर ओपीडी एवं इंडोर की सेवाओं को ठप्प कर दिया है.

ये भी पढ़े : Jamshedpur breaking : बर्मामाइंस में चली गोली, पुलिस जांच में जुटी

Related Articles

Back to top button