न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

हजारीबाग : सड़क दुर्घटना में दो युवकों की मौत, पूरी घटना सीसीटीवी में कैद

घटना में मृत दोनों युवक कोर्रा थाना क्षेत्र के लाखे मुहल्ले के रहने वाले थे. जानकारी के अनुसार हादसा उस वक्त हुआ, जब दोनों युवक ईद के मौके पर अपने किसी परिजन के घर से अपने घर लाखे लौट रहे थे.

86

Hazaribagh : हज़ारीबाग जिले के पिटीसी चौक के पास अहले सुबह लगभग 4:00 बजे राजधानी बस की चपेट में आने से दो युवकों की घटना स्थल पर ही मौत हो गयी. घटना में मृत दोनों युवक कोर्रा थाना क्षेत्र के लाखे मुहल्ले के रहने वाले थे.  जानकारी के अनुसार हादसा उस वक्त हुआ, जब दोनों युवक ईद के मौके पर अपने किसी परिजन के घर से अपने घर लाखे लौट रहे थे.

eidbanner

तभी गांधी मैदान के नजदीक पुलिस ट्रेनिग सेन्टर के समीप चौमुखी चौक के पास तेज रफ़्तार में आ रही राजधानी बस ने अपनी चपेट में ले लिया.  बस की रफ्तार इतनी तेज थी कि वह मोटरसाइकिल सवार दोनों युवकों को घसीटते हुए दो सौ फीट तक ले गयी. इस हादसे के पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गयी. सीसीटीवी फुटेज के अनुसार बस की तेज रफ्तार कारण घटना घटी. हालांकि मृतक के परिजनों द्वारा दिये गये लिखित आवेदन में अज्ञात वाहन का उल्लेख किया  गया है.

इसे भी पढ़ें- झारखंड में सरकारी वेकेंसी का नहीं भरना और उद्योग का विकास नहीं होना बेरोजगारी का बड़ा कारण

 पांच घंटे तक रहा एनएच 100 जाम

घटना के बाद स्थानीय लोगो ने हज़ारीबाग चतरा एनएच 100 में परिचालन बंद करा दिया और मुआवजे की मांग करने लगे. घटना स्थल पर पहुंची कोर्रा पुलिस ने परिचालन शुरू करने की काफी कोशिश की. इसके बाद भी लोगो ने परिचालन शुरू नहीं होने दिया.  पांच घंटे सड़क जाम रहने बाद लोगो को समझाने पहुंचे सदर एसडीओ अमिताभ भगत के आस्वासन के बाद लोगों ने परिचालन शुरू होने दिया.

Related Posts

विधानसभा चुनाव : कांग्रेस और जेएमएम ने बनायी विशेष रणनीति, स्थानीय मुद्दों पर रहेगा जोर 

लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद आगामी विधानसभा चुनाव के लिए महागठबंधन के घटक दलों ने सांगठनिक मजबूती पर काम शुरू कर दिया है.

इधर घटना के बाद राजधानी बस को दारू थाना क्षेत्र के मेरु के पास पुलिस ने पकड़ लिया.  कोर्रा थाना प्रभारी अरविंद सिंह ने बताया कि राजधानी बस में सवार सभी यात्री को दूसरी  बस से भेज दिया गया.  घटना के  बाद लाखे मुहल्ले में मातम का माहौल है. इस घटना के बाद लोगो ने ईद नही मनाई.

इसे भी पढ़ें – चार साल बाद भी खड़ा नहीं हो पाया बिजली कंपनियों का संगठनात्मक ढांचा, अफसरों और इंजीनियरों के पद नाम भी नहीं बदले

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: