न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हजारीबाग : शिकायतकर्ता ने लगाया आरोप, केस उठाने के लिए दारोगा दिलवा रहा है घमकी

बड़कागांव में श्रमदान से सड़क बना रहे लोगों से ट्रैक्टर जब्त कर पचास हजार रुपया घूस लेने के मामले में दारोगा सुमन कुमार को एसपी मयूर कन्हैया लाल पटेल द्वारा जांच के बाद सस्पेंड कर दिया गया था

410

  Hazaribag : बड़कागांव में श्रमदान से सड़क बना रहे लोगों से ट्रैक्टर जब्त कर पचास हजार रुपया घूस लेने के मामले में दारोगा सुमन कुमार को एसपी मयूर कन्हैया लाल पटेल द्वारा जांच के बाद सस्पेंड कर दिया गया था. बाद में राज्य पुलिस मुख्यालय ने सुमन कुमार का पाकुड़ ट्रांसफर कर दिया. अब सुमन कुमार पर आरोप है कि बड़कागांव में घूस लेने का आरोप लगाने वाले शिकायतकर्ता पंकज ठाकुर को शिकायत वापस लेने के लिए धमकी दिलवाई जा रही है.

ट्रैक्टर जब्त कर पचास हजार घूस लेने पर एसपी ने सस़्पेंड कर दिया था दारेागा को

बता दें कि श्रमदान कर सड़क बना रहे ग्रामीणों से ट्रैक्टर जब्त कर पचास हजार रुपया घूस लेकर ट्रैक्टर छोड़ने की शिकायत ग्रामीणों ने 14 अगस्त को हजारीबाग एसपी मयूर कन्हैया पटेल और डीआईजी पंकज कंबोज से की थी. एसपी ने आरोप की जांच के लिए डीएसपी को जिम्मा दिया. इस क्रम में 14 अगस्त की रात को शिकायतकर्ता पंकज ठाकुर के घर जाकर दारोगा ने घूस की रकम 50 हजार वापस कर दबाव देकर आवेदन लिखवा लिया कि मैंने बहकावे में आकर शिकायत की है.  मैं अपनी शिकायत वापस लेता हूं. इस बात की जानकारी पंकज ने रात को ही वरीय अधिकारियों को दे दी थी. 16 अगस्त को डीएसपी के जांच में आरोप की पुष्टि के बाद सुमन कुमार को एसपी ने सस्पेंड कर दिया था.

सुमन कुमार को पुलिस मुख्यालय ने पाकुड़ ट्रांसफर कर दिया है

वर्तमान में सुमन कुमार को पुलिस मुख्यालय ने पाकुड़ ट्रांसफर कर दिया है. लेकिन आरोप है सुमन कुमार  ने उसने खिलाफ शिकायत करने वाले पंकज ठाकुर को मैनेज करने के लिए अपने गुगों को लगा दिया है. वे लेाग पंकज ठाकुर को धमकी दे रहे हैं कि मामला उठा लो. पंकज ने इस संबंध में बड़कागांव थाने में आवेदन दिया है. जिसमें कहा गया है कि सुमन कुमार के मामले को खत्म करने के लिए उसके गुर्गे  हथियार दिखाकर धमकी दे रहे हैं कि मामला उठा लो, नहीं तो जान से मार देंगे. पुलिस मामले की जांच कर कार्रवाई शुरू करने की बात कह रही है.

palamu_12

इसे भी पढ़ेंःराज्य के प्रधान मुख्य वन संरक्षक संजय कुमार की बोलती बंद, जनसंवाद में आरोपी अफसर पर नहीं दे पाये सही जवाब, सीएम बोले हटाओ डीएफओ को

 

इसे भी पढ़ेंः मनगढ़ंत है पत्र और अपराधी बताने की साजिश: सुधा भारद्वाज

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: