न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हजारीबाग : घाघरा डैम को लेकर विधायक की बेटी और भाई आपस में भिड़े

4,683

Hazaribagh : जो मुकेश साव कभी योगेंद्र साव के मंत्री रहते उनके निजी सचिव थे, रिश्ते में जीजा-साला लगनेवाले योगेंद्र साव और मुकेश साव की रणनीति से बड़कागांव की राजनीति तय होती थी, उसी मुकेश साव से उनकी भगिनी (विधायक निर्मला देवी की बेटी अंबा साव) सरेआम बहस कर रही है. 20 लोगों के सामने ऊंची आवाज में बात कर रही है और बहस कर रही है. मामला 23 करोड़ रुपये की लागत से बन रहे केरेडारी के घाघरा डैम का है. बड़कागांव की विधायक निर्मला देवी का आरोप है कि डैम बनाने में सिद्धार्थ कंस्ट्रक्शन नाम की कंपनी अनियमितता बरत रही है. मामले को लेकर उन्होंने विभाग की तरफ से जांच करने के लिए लिखा था. विधायक के आरोप के बाद विभाग की तरफ से पांच सदस्यीय जांच समिति बनायी गयी. समिति जांच करने के लिए बड़कागांव विधानसभा क्षेत्र के केरेडारी स्थित घाघरा डैम पहुंची. दूसरी तरफ विधायक की बेटी अंबा साव अपने पूरे लाव-लश्कर के साथ मौके पर पहुंची. मौके पर उनके बड़े और छोटे मामा राजेश और मुकेश साव भी मौजूद थे. बता दें कि मामले को लेकर केरेडारी प्रमुख नीतू कुमारी ने भी जलसंसाधन एवं पेयजल, स्वच्छता मंत्री को पत्र लिखकर शिकायत की है.

इसे भी पढ़ें- सिमडेगा : पट्टातिरिल डैम का डायवर्सन बहा, जान जोखिम में डालकर सफर कर रहे लोग

कंपनी की तरफ से मामा और खिलाफ में भगिनी

hosp3

केरेडारी में घाघरा डैम बनाने का काम सिद्धार्थ कंस्ट्रक्शन को मिला है. यह कंपनी जल संसाधन, पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी की काफी करीबी मानी जाती है. आस-पास के ग्रामीण हमेशा डैम बनाने में अनियमितता की बात करते रहते हैं. विधायक निर्मला देवी ने जांच के लिए लिखा है. जैसी ही विभाग की तरफ से बनायी गयी पांच लोगों की टीम मौके पर पहुंची, मानो मजमा लग गया. विधायक निर्मला देवी की बेटी अंबा आनन-फानन में वहां पहुंच गयीं. अंबा के दोनों मामा भी वहीं मौजूद थे. कंपनी के काम को लेकर पहुंचे समिति के लोगों को अंबा अनियमितता की बात कहने लगीं. लेकिन, उनके मामा राजेश और मुकेश साव कंपनी के पक्ष में बातों को रख रहे थे. इतने में ही मामा की टीम और भगिनी की टीम में टकराव की स्थिति पैदा हो गयी. काफी देर तक मामा की टीम और भगिनी की टीम आपस में बहस करते रही. हालांकि, बाद में जांच करने गयी टीम ने यह माना कि काम नियमपूर्वक नहीं हो रहा है. आगे की कार्रवाई करने की बात कहकर समिति वहां से रवाना हो गयी.

इसे भी पढ़ें- मुख्यमंत्री जनसंवाद में सीएम के सामने बोली युवती – सर, थाने में दारोगा ने किया है मेरे साथ रेप

साव परिवार में दरार की वजह

इस घटना के बाद से ही बड़कागांव में साव परिवार में आयी दरार चर्चा का विषय बनी हुई है. लोगों में चर्चा है कि कभी वह भी दिन था, जब जीजा साला के लिए और साला जीजा के लिए बदनाम होने से नहीं डरते थे. लेकिन, अब घर की सबसे छोटी बेटी यानी अंबा ही सरेराह दोनों मामा को सबक सिखा देने की बात कर रही है. आखिर इस रिश्ते में आयी इस खटास के मायने क्या हैं? लोगों में यह भी चर्चा है कि कुछ आर्थिक मामले को लेकर दोनों परिवार के बीच खटास आ गयी है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: