Hazaribagh

हजारीबाग : आजादी के अमृत महोत्सव पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के योगदान पर व्याख्यान का आयोजन

Hazaribag : गौतम बुद्ध शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय, मुकुंदगंज, हजारीबाग में आजादी के अमृत महोत्सव पर आठ दिवसीय व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया है. इसके तहत झारखंड के जाने माने शिक्षाविद को आमंत्रित कर प्रतिदिन एक घंटा का स्वतंत्रता संग्राम में स्वतंत्रता सेनानियों की भूमिका पर व्याख्यान कराया जा रहा है.

आज पहले दिन विनोबा भावे विश्वविद्यालय हजारीबाग के सेवानिवृत्त प्रोफेसर, अंग्रेजी विभाग के प्रो. बी.के.झा ने अपने व्याख्यान में कहा कि आजादी हमारे देश के स्वतंत्रता सेनानियों की समर्पण, त्याग, कर्तव्यनिष्ठा का परिणाम है. गांधी जी ने सत्य-अहिंसा के मार्ग पर चलना सीखाया और सत्य के रास्ते पर चल कर देश को आजाद कराया तो रवीन्द्रनाथ टैगोर ने साहित्य के क्षेत्र में कालजयी रचना गीतांजलि लिखकर देश के प्रति न्योछावर होने की बात कही.

इसे भी पढ़ें:रूस ने स्पेस रॉकेट से हटाया US, जापान और ब्रिटेन का झंडा; लगा रहा तिरंगा, देखें VIDEO

ram janam hospital
Catalyst IAS

देश में राजीव गांधी सरकार द्वारा बनाई गयी शिक्षा नीति 1986 की विरासत आजादी के पूर्व स्वतंत्रता सेनानियों की ही देन रही है.

The Royal’s
Sanjeevani

जिसकी नींव बालगंगाधर तिलक, डी.डी. कर्वे, अबुल कलाम आजाद ने रखें थे. आजाद भारत के संविधान की प्रस्तावना में भारत की आत्मा, नैतिकता और स्वाभिमान के लक्षण स्वतंत्रता सेनानियों के ही उदगार हैं.

इसे भी पढ़ें:JHARKHAND BUDGET: सहायक शिक्षकों के मानदेय के लिए 600 करोड़ रुपए का प्रावधान, रिमेडियल क्लासेस के लिए 40 करोड़ अतिरिक्त

प्राचार्य, डॉ. अरविन्द कुमार यादव ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव के आयोजन का उद्देष्य उन स्वतंत्रता सेनानियों को देश के सामने लाना जो किन्हीं कारणों से आज तक समाज में नहीं जाने जा सके हैं.

मौके पर उप प्राचार्य, डॉ. प्रमोद प्रसाद, विभागाध्यक्ष, अजय कुमार यादव, व्याख्याता, पुष्पा कुमारी, कुमारी अंजली, डॉ. पुष्पा कुमारी, अषोक कुमार सिन्हा, लीना कुमारी, दषरथ कुमार, अनील कुमार, जगेष्वर रजक, गुलषन कुमार, महेष प्रसाद, रचना कुमारी, अंजन कुमार, नन्द किषोर कुमार, संजय कुमार वर्मा, राजकुमार साव, ज्योति हेम्मा एक्का एवं बी.एड. तथा डी.एल.एड. के प्रषिक्षुगण उपस्थित रहे.

इसे भी पढ़ें:IGNOU FINAL EXAM: 4 मार्च से होगा शुरू, 25 सेंटर्स पर 1.90 लाख स्टूडेंट्स देंगे परीक्षा

Related Articles

Back to top button