HazaribaghJharkhand

हजारीबाग : अफीम मामले में गिरफ्तार आरटीआई एक्टिविस्ट केस में सीआईडी जांच शुरु

Hazaribagh : डिस्ट्रिक्ट मोड़ के पास से अफीम और ब्राउन शुगर के साथ गिरफ्तार किए गए आरटीआई एक्टिविस्ट राजेश मिश्रा के मामले में सीआईडी जांच शुरू हो गयी है. आरटीआई एक्टिविस्ट राजेश मिश्रा गिरफ्तार करने वाले पुलिसकर्मी और षड्यंत्र रचने वाले लोगों से पूछताछ की तैयारी में सीआईडी जुट गयी है.

खबर है कि गुरुवार को आरटीआई एक्टिविस्ट से सीआईडी टीम पूछताछ करने वाली थी, लेकिन यह तिथि बढ़ाकर आने वाले सोमवार को दी गयी है.

सूत्रों की माने सभी से पूछताछ के बाद आए बयानों को क्रॉस चेक किया जायेगा. उनके मोबाइल लोकेशन चेक किए जाएंगे. पुलिस आरोपी के मोबाइल लोकेशन घटना के दिन और घटना के पूर्व के कुछ दिनों का खंगाला जाएगा.

advt

इसे भी पढ़ें :लोजपा में घमासान के बीच पशुपति पारस बन गए अध्यक्ष, चिराग पर तीखे बोल

हालांकि पुलिस की जांच में आरोपियों के आपस में बातचीत के मोबाइल लोकेशन और रिकॉर्डिंग पुलिस को हाथ लगी थी, लेकिन पुलिस और आरोपियों के बीच का लोकेशन अब तक सामने नहीं आ पाया है. सीआईडी अब इस बिंदु पर भी जांच कर सकती है.

पुलिस पर गिरफ्तारी को लेकर चल रहे आरोप-प्रत्यारोप और भारी दबाव के बीच एसपी कार्तिक एस की जांच में पूरा सच सामने आ गया था. पूरी साजिश रजिस्ट्री कार्यालय में हो रहे भ्रष्टाचार को उजागर होने से बचाने के लिए रची गयी थी.

राजेश मिश्रा ने भ्रष्टाचार को लेकर एक आरटीआई मांगी थी. इसी मामले को लेकर साजिश के तहत उनके मोटरसाइकिल के डिक्की में अफीम, ब्राउन शुगर रखे गए थे.

इसे भी पढ़ें :रूपा तिर्की मामले को दबाने के सारे हथकंडे फेल हुए तो पिता को ही आरोपी बनाकर जेल भेजने की तैयारी: आरती कुजूर

पुलिस ने साजिश रचने और डिक्की में अफीम रखने वाले पांच मुख्य साजिशकर्ताओं को गिरफ्तार किया था. यह जानकारी एसपी कार्तिक एस ने प्रेसवार्ता के दौरान दी थी.

गिरफ्तार षड्यंत्रकारी लोगों में रजिस्ट्री कार्यालय के सहायक आनंद कुमार शिवपूरी, दो डीड राईटर सगे भाई मो. एजाज अशरफ उर्फ बब्लू, सरफराज आलम उर्फ गुड्डू पगमिल, दलाल एजाज का रिश्तेदार बंटी उर्फ मेराज हुसैन पेलावल और जमीन ब्रोकर आदित्य सोनी शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें :गिरिडीहः कोरोना संक्रमण के 7 नए मामले

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: