Crime NewsHazaribaghJharkhand

Hazaribag: सर्च अभियान में जेपीसी उग्रवादी गिरफ्तार, दो फरार

Hazaribag: हजारीबाग के चरही थाना क्षेत्र अंतर्गत तापिन बस्ती में चरही पुलिस एव सीआरपीएफ बी/22 के संयुक्त सर्च अभियान में शुक्रवार को पुलिस ने नक्सल संगठन के एक सदस्य को गिरफ्तार कर लिया. एसपी मनोज रतन चौथे को नक्सली के होने की गुप्त सूचना मिली थी. उनके निर्देश पर बी/ 22 सीआरपीएफ बटालियन एवं चरही थाना सशस्त्र बल के छापामार दल का गठन किया गया. टीम ने तापिन बस्ती में सर्च अभियान के दौरान उसे पकड़ा.

जैसे ही पुलिस वहां पहुंची, तो तीन व्यक्ति भागने लगे. पुलिस ने पीछा कर एक व्यक्ति पकड़ लिया. पकड़े गए व्यक्ति से नाम पता पूछे जाने पर उसने अपना नाम छोटू गंझू उर्फ राजेश गंझू उर्फ विपुल (22 वर्ष) बताया.

advt

इसे भी पढ़ें: IPL 2021: मुंबई इंडियंस से मैच से पहले धौनी ने लगाये धुंआधार छक्के, रोहित की उड़ेगी नींद, देखें VIDEO

उसके पिता स्वर्गीय होरिल गंझू थे. पकड़ा गया नक्सली चतरा के सिमरिया स्थित बोंगादाग का रहनेवाला है.
फरार नक्सलियों में चरही निवासी सिकंदर मुंडा और सूरज मुंडा है. पकड़े गए अपराधी से उन दोनों के बारे में पुलिस को पूरी जानकारी दी. भागने का कारण पूछने पर उसने खुद को जेपीसी संगठन का सदस्य बताया.

पकड़े गए अपराधी के पास से प्वाइंट 315 बोर का राइफल और प्वाइंट 315 बोर नौ गोलियां बरामद की गईं.
इस मामले में चरही थाना कांड संख्या 90/21 दिनांक 17.09.21 धारा 25(1-बी ) ए/26/ 35 आम्र्स एक्ट, 17 सीएलए एक्ट दर्ज किया गया है.

इसे भी पढ़ें: विराट की मुश्किलें बढ़ीं, द्रविड़ नहीं बल्कि ये पूर्व दिग्गज होंगे टीम इंडिया के अगले मुख्य कोच

पुलिस ने जानकारी दी कि तीनों नक्सली अपने सहयोगियों के साथ पूर्व में भी फुसरी में राम किशोर मुर्मू के घर लेवी वसूलने गये थे.

इस संबंध में भी चरही थाने में मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने बताया कि हथियार के बल पर सभी लेवी वसूलते थे. प्रेस वार्ता के दौरान मुख्य रूप से विष्णुगढ़ एसडीपीओ अनुज उरांव, सीआरपीएफ असिस्टेंट कमांडेंट बी/22 दुर्गेश कुमार, चरही थाना प्रभारी आनंद आजाद सहित सीआरपीएफ एवं चरही थाना की अन्य पुलिस मौजूद थी.

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के खिलाफ वार लड़नेवाले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद छोड़ी थी कांग्रेस

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: