न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आरोपी का हमशक्ल होना भी मुसीबत, 17 साल जेल की सजा काटी, छूटने पर मिला करोड़ों का हर्जाना

खबरों के अनुसार कोर्ट ने एक व्यक्ति को हमशक्ल होने की वजह से जेल में सजा काटने के बदले में सात करोड़ रुपये से भी ज्यादा का हर्जाना देने का फैसला सुनाया  है.

1,000

Washington : आप अक्सर सुनते होंगे कि कोर्ट ने किसी व्यक्ति को किसी अपराध में सजा सुनाने के साथ जुर्माना भरने का आदेश भी दिया हो.  मगर अमेरिकी अदालत में एक दिलचस्प मामला सामने आया है, जो चर्चा का विषय है.  खबरों के अनुसार कोर्ट ने एक व्यक्ति को हमशक्ल होने की वजह से जेल में सजा काटने के बदले में सात करोड़ रुपये से भी ज्यादा का हर्जाना देने का फैसला सुनाया  है.  दरअसल यह पूरा मामला वॉलमार्ट के पार्किंग में चोरी का है. लेकिन इस मामले में कोर्ट ने असली गुनहगार के बदले अमेरिका के 42 साल के रिचर्ड एंथनी को 20 साल की सजा सुनाई थी. बता दें कि पुलिस ने असली गुनहगार को डेढ़ साल पहले गिरफ्तार किया और जेल भेजा. सही बात जानने केबाद कोर्ट ने हमशक्ल रिचर्ड को रिहा करने का आदेश दे दिया.

इसके बाद रिचर्ड ने कोर्ट में याचिका दाखिल कर बेकसूर होने के बावजूद सजा काटने के बदले में हर्जाना देने की मांग की.  तब जाकर रिचर्ड एंथनी को हर्जाना दिया गया, ताकि वह अपनी बची हुई जिंदगी गुजार सके.  हमशक्ल होने की वजह से 17 साल जेल में रहने वाले रिचर्ड एंथनी को 11 लाख अमेरिकी डॉलर (लगभग 7.71 करोड़ रुपए) का हर्जाना दिया गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: