न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रंगदारी के कारण हार्ड कोक उद्योग बंदी के कगार पर, मजदूरों पर रोजी-रोटी का संकट

925

Dhanbad : धनबाद में बीसीसीएल के लोडिंग प्वाइंट पर रंगदारी मांगे जाने के कारण कोयला उठाव ठप्प पड़ गया जिससे कोयलांचल का हार्ड कोक उद्योग बंदी के कगार पर पहुंच गया है.

लोडिग पॉइंट पर रंगदारी नहीं देने पर ट्रक लौटा दिये जाते हैं. कई महीनों से बाघमारा क्षेत्र की कोलियरियों से छिटपुट उठाव को छोड़कर कोयले का उठाव पूरी तरह ठप है.

इसके कारण जहां कोयला इंडस्ट्री से जुड़े कारोबारियों की स्थिति दयनीय हो गयी है, वहीं सैकड़ों मजदूरों के परिवारों के सामने रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है. इसके अलावा अप्रत्यक्ष रूप से इंडस्ट्री से जुड़े लाखों लोग भी प्रभावित हो रहे हैं.

हार्ड कोक इंडस्ट्रीज को पर्याप्त कोयला नहीं मिलने से प्रोडक्शन 30 प्रतिशत से भी कम हो गया है.

इसे भी पढ़ें : रांचीः मेन रोड के फुटपाथ पर अब नहीं लगेंगी दुकानें, बना नो वेंडिंग जोन

30 प्रतिशत से कम उत्पादन

इंडस्ट्रीज एंड कॉमर्स एसोसिएशन ने सांसद पीएन सिंह, विधायक अरूप चटर्जी व बीसीसीएल डीपी को पत्र लिख कोयला उठाव में हो रही परेशानी से अवगत कराया है. लेकिन अब तक इस समस्या का कोई समाधान नहीं निकल पाया है.

SMILE

इंडस्ट्रीज का प्रतिनिधित्व करने वाले एसोसिएशन के अध्यक्ष बीएन सिंह ने कहा हार्ड कोक उद्योग अपने उत्पादन के लिए बीसीसीएल के कोकिंग कोल पर निर्भर है. एक ओर बीसीसीएल हमें पर्याप्त कोयला नहीं दे रहा, तो दूसरी ओर ऐसे क्षेत्र का कोयला आवंटित कर रहा है, जो उठाना संभव नहीं है.

इसे भी पढ़ें : डीसी का आदेश नहीं मान रहे जवाहर नवोदय विद्यालय रांची के प्राचार्य 

धनसार में मजदूरों का विरोध

सिंह ने बताया कि एरिया छह की धनसार कोलियरी से एक बड़े अनुपात में उन्हें कोयला आवंटित किया जा रहा है, जिसका अग्रिम भुगतान भी करते हैं, लेकिन धनसार कोलियरी से मजदूरों के विरोध के चलते वे कोयला नहीं उठा पा रहे हैं.

उन्होंने कहा कि धनसार ही नहीं, और भी कहीं से कोयला नहीं मिल पा रहा है. कुसुंडा कोलियरी काफी अरसे से बंद है, लेकिन बीसीसीएल कोई सुनवाई नहीं करता. यह झारखंड ही नहीं, देश की आर्थिक स्थिति के लिए भी घातक है.

इसे भी पढ़ें : बिजली संकट बढ़ने के आसार, मानसून के कारण ठप पड़ सकते हैं पावर प्लांट्स

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: