lok sabha election 2019National

हंस राज हंस को BJP ने उत्तर-पश्चिम दिल्ली लोकसभा सीट से बनाया उम्मीदवार, उदित राज का कटा टिकट

New Delhi : भाजपा ने मंगलवार को उत्तर पश्चिम दिल्ली से गायक हंस राज हंस को पार्टी उम्मीदवार बनाए जाने की घोषणा की. यह घोषणा नामांकन दाखिल करने की अंतिम समय सीमा से कुछ घंटों पहले की गई. हंस राज हंस साल 2016 में ही भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे.

Jharkhand Rai


गौरतलब है कि उत्तर-पश्चिम दिल्ली से मौजूदा सांसद उदित राज ने सीट से उम्मीदवार नहीं बनाए जाने पर इस्तीफा देने और निर्दलीय उम्मीदवार के तौर खड़ा होने की धमकी दी थी. पार्टी के अंदरूनी सूत्रों ने बताया कि हंस राज को उम्मीदवार बनाने की घोषणा में देरी के पीछे एक कारण यह भी था. वहीं हंस राज के सामने आम आदमी पार्टी के गुग्गन सिंह और कांग्रेस के राजेश लिलोठिया की चुनौती होगी.

Samford

दिल्ली की सात सीटों पर बीजेपी ने जिन उम्मीदवारों की घोषणा की है उनमें डॉ. हर्षवर्धन, रमेश बिधूड़ी, मनोज तिवारी, प्रवेश वर्मा, मिनाक्षी लेखी, गौतम गंभीर और हंस राज हंस शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंः चौकीदार चोर है वाले बयान पर राहुल को अवमानना का…

निर्दलीय चुनाव लड़ने की बात कही थी उदित राज ने

भाजपा सांसद उदित राज टिकट बंटवारे को लेकर अपनी पार्टी से नाराज चल रहे थे. हंस राज हंस को टिकट दिए जाने के पहले उदित राज ने मंगलवार सुबह कहा कि यदि उन्हें लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया गया तो वह पार्टी से इस्तीफा दे देंगे. और उत्तर पश्चिम दिल्ली संसदीय सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ सकते हैं.

उत्तर पश्चिम दिल्ली से मौजूदा सांसद उदित राज ने कहा कि वह पार्टी के जवाब के लिए कुछ समय प्रतीक्षा करेंगे और फिर निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे. हांलाकि अब पार्टी ने हंस को टिकट देकर अपना रुख साफ कर दिया है. ऐसे में यह उम्मीद जतायी जा रही है कि उदित अब शायद निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं.

‘टिकट का कर रहा इंतजार’ : उदित राज

राज ने ट्वीट किया, ‘‘मैं टिकट का इंतजार कर रहा हूं. यदि मुझे टिकट नहीं मिला, तो मैं पार्टी को अलविदा कह दूंगा.’’

इससे पहले राज आधी रात को अपने दर्जनों समर्थकों के साथ पंत मार्ग पर दिल्ली भाजपा कार्यालय में पहुंचे थे और उन्होंने वहां हंगामा किया था.

इसे भी पढ़ेंः लोकसभा चुनाव : तीसरे चरण के लिए मतदान शुरू, दांव पर राहुल गांधी व अमित शाह की किस्मत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: