JharkhandLead NewsRanchi

मानसिक रोगियों के पुनर्वास के लिये राज्य के तीन जिलों में हॉफ-वे-होम खोले जायेंगे

Ranchi: राज्य सरकार ने एक ओर जहां 10 जिलों में सरकारी चिकित्सालयों में नशा-पान से मुक्ति के लिये सुविधायें उपलब्ध करा रही है वहीं, दूसरी ओर चिकित्सालयों में स्वस्थ हो चुके मानसिक रोगियों के पुनर्वास का भी प्रयास कर रही है. राज्य के तीन जिलों में रांची, धनबाद और पू सिंहभूम में हॉफ-वे-होम की स्थापना करेगी. यह पुनर्वास केंद्र 30-30 बेड का होगा. राज्य सरकार ने बजट में महिला,बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा को लेकर 574262.74 लाख का बजट प्रस्तावित किया है. दिव्यांगजनों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से राज्य निधि पहले से ही गठित है.

इसे भी पढ़ें : भागलपुर ब्लास्ट को ले IB ने किया था अलर्ट, प्रशासन ने किया नजरअंदाज, अब तक 10 की मौत

दिव्यांग बच्चों की शिक्षा के लिये चार जिलों में विशेष विद्यालय भी खोले जा रहे है
दिव्यांग बच्चों की शिक्षा को लेकर भी सरकार काफी संवेदनशील बनी हुई है. ऐसे बच्चों के लिये चार जिलों में विशेष विद्यालय का भी संचालन किया जायेगा.

Sanjeevani

DIVINE योजना की शुरूआत होगी

समाज के कठिन परिस्थितियों में जीवनयापन करने वाले विभिन्न वर्गों जैसे विधवा, निराश्रित, वृद्ध, ट्रांसजेंडर व भिक्षुक के अलावा ऐसे बच्चे एवं महिलायों की सुरक्षा की जिम्मेवारी सरकार ने ली है. ऐसे लोगों के लिये राज्य सरकार DIVINE(Diginty to Vulnerable Individuals for Nuturing with Empathy ) योजना की शुरूआत कर रही है. यह योजना Platforms and Civil Society Organizations(CSOs) के माध्यम से कार्यान्वित की जायेगी. यह योजना ऐसे जरुरतमंदों को सरकार के कार्यक्रमों व योजनाओं से जुड़ने एवं निहित सेवाओं को प्राप्त करने में सहायक होगी.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand विधानसभा सत्र: संवैधानिक आयोग और न्यायाधिकरण के अध्यक्ष और सदस्यों के रिक्त पदों पर नियुक्ति फिलहाल विचाराधीन

Related Articles

Back to top button