Jharkhand Vidhansabha Election

रांची :  चाईबासा के बाद गुमला युवा कांग्रेस टीम ने दिया इस्तीफा, अब नजर प्रदीप बलमुचू पर

Ranchi : झारखंड प्रदेश कांग्रेस में नेताओं का बगावती सुर कम होने का नाम नहीं ले रहा है. कुछ दिन पहले ही पार्टी के दो वरिष्ठ नेताओं ने बीजेपी का दामन थामा था. अब एक बार एक वरिष्ठ नेताओं सहित जिला युवा कांग्रेस के नेता बागवत पर उतर आये हैं. इसमें एक पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्य़क्ष प्रदीप बलमुचू और दूसरे गुमला जिला युवा कांग्रेस अध्य़क्ष राजनील तिग्गा का नाम सामने आया है.

बताया जा रहा है कि युवा नेता ने प्रदेश युवा कांग्रेस अध्य़क्ष कुमार गौरव को अपना इस्तीफा सौंप दिया है. वही प्रदीप बलमुचू के बारे में जानकारी मिल रही है कि घाटशिला सीट जेएमएम के खाते में जाने से नाराज आजसू के टिकट पर या निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं.

बात दें कि जेएमएम के साथ गठबंधन से नाराज जिला कांग्रेस कमेटी की पश्चिम सिंहभूम ईकाई के सभी पदाधिकारियों ने पार्टी पद से सामूहिक इस्तीफा दे दिया था.

इसे भी पढ़ेंः #MaharastraVerict : #NCP सरकार बनाने की  तैयारी में…शिवसेना के साथ पक रही है खिचड़ी! सामना में शरद पवार की तारीफ

इस्तीफा देने का सिलसिला लगातार है जारी

ऐसा नहीं है कि विधानसभा चुनाव के पहले ही कांग्रेस पार्टी नेताओं के इस्तीफा दे रहे हैं. इससे पहले भी लोकसभा चुनाव के रिजल्ट के बाद विरोध के स्वर को देख डॉ अजय कुमार इस्तीफा देकर आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे. कुछ दिन पहले पूर्व प्रदेश अध्य़क्ष सह लोहरदगा विधायक सुखदेव भगत और बरही विधायक मनोज यादव ने भी कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थामा था. चाईबासा जिला कांग्रेस के बाद गुमला जिला कांग्रेस के नेता इस्तीफा दे रहे है.

सीट नहीं मिलने से हतोत्साहित हो जायेंगे कार्यकर्ता : राजनील तिग्गा

गुमला जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष राजनील तिग्गा ने अपने इस्तीफा की पुष्टि न्यूज विंग से की है. फोन से बातचीत में उन्होंने कहा कि गठबंधन बनने से पहले ही वे पार्टी शीर्ष नेताओं से मांग कर रहे थे कि गुमला जिले के कम से कम एक सीट पार्टी प्रत्याशी चुनाव लड़ें.

ऐसा नहीं होने पर सभी कार्यकर्ता पूरी तरह से हतोसाहित हो जायेंगे. राजनील ने कहा कि गुमला और विशुनपूर तो जेएमएम के खाते में चला ही गया है. सिसई के भी जाने की चर्चा जोरों पर है. उन्होंने शीर्ष नेताओं के समक्ष अपनी बातों को रखा, तो इसे सिरे से अनदेखा कर दिया गया. कार्यकर्ता की भावनाओं के देखकर उऩ्होंने जिला अध्यक्ष से इस्तीफा सौंप पार्टी को छोड़ दिया है.

इसके साथ ओबीसी सेल के जिला अध्य़क्ष राजीव कुमार महतो, एनएसयूआई के जिला अध्य़क्ष रूपेश कुमार सन्नी ने पार्टी छोड़ दिया है. सभी ने अपना इस्तीफा संबंधित अध्यक्ष को सौंपा है. इसके अलावा युवा जिला की पूरी टीम ने भी पार्टी छोड़ दिया है.

इसे भी पढ़ेंः बोकारो विधायक बिरंची का वीडियो वायरल होने के बाद बोकारो #BJP बैकफुट पर!

नाराज प्रदीप बलमुचू भी पार्टी छोड़ने के कगार पर

दूसरी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रदीप बलमुचू के भी इस्तीफा दिये जाने की चर्चा जोरों पर है. बताया जा रहा है कि घाटशिला सीट पर चुनाव लड़ने के लिए उन्होंने प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह के समक्ष बात रखी थी. लेकिन घाटशिला सीट जेएमएम के खाते मे चली गयी है.

इससे वे भी जल्द पार्टी छोड़ सकते है. रविवार को यह बात की जोरों से चर्चा थी कि प्रदीप बलमुचू ने कांग्रेस के पद से इस्तीफा दे दिया है. इस संदर्भ में उनसे फोन पर चार से पांच बार संपर्क किया गया, लेकिन उनका जवाब नहीं मिल सका.

राजनीतिक गलियारों पर यह बात जोरों पर है कि कांग्रेस नेता आजसू के टिकट पर या निर्दलीय चुनाव लड़ सकते है.

इसे भी पढ़ेंः #West_Bengal बुलबुल चक्रवात से भारी तबाही, ममता ने नियंत्रण कक्ष से ली हालात की जानकारी, हवाई सर्वेक्षण करेंगी

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: