न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गुमला: PLFI एरिया कमांडर नीलकंठ साहू समेत दो उग्रवादी गिरफ्तार

837

Gumla: जिले के जोराग जंगल से पुलिस ने पीएलएफआइ के एरिया कमांडर नीलकंठ साहू और एक सक्रिय उग्रवादी अनिल उरांव को गिरफ्तार किया है.

मंगलवार को गुमला एसपी अंजनी कुमार झा ने बताया कि दोनों के पास से दो देशी कट्‌टा, 8 एमएम की 6 गोलियां, एक खोखा, 5 मोबाइल फोन, 6 सिम कार्ड पीएलएफआइ के तीन लेटर पैड और एक पीठू बैग बरामद किया गया.

Trade Friends

इसे भी पढ़ें- क्लर्क नियुक्ति के लिए फॉर्म की फीस 1000 रुपये, कितना जायज? हमें लिखें…

गुप्त सूचना के आधार पर हुई गिरफ्तारी

गुमला एसपी अंजनी कुमार झा को गुप्त सूचना मिली थी कि पीएलएफआइ उग्रवादी जोराग जंगल में घूम रहे हैं. इसी सूचना के आधार पर टीम का गठन किया गया और उन्हें सर्च अभियान के लिए जंगल भेजा गया.

पुलिस की टीम जैसे ही जंगल पहुंची तो उन्हें देखकर दो लोग भागने लगे. पुलिस ने भी दोनों को पकड़ लिया. पूछताछ के दौरान पता चला कि एक पीएलएफआइ का एरिया कमांडर नीलकंठ साहू है और दूसरा सक्रिय सदस्य अनिल उरांव है.

नीलकंठ साहू पर लापुंग थाना में हत्या का मामला भी दर्ज है. साथ ही नीलकंठ साहू ने इसी साल 14 फरवरी को प्रेम-प्रसंग के एक मामले में प्रकाश कुमार नाम के एक व्यक्ति की हत्या की गयी थी.

WH MART 1

इसे भी पढ़ें- दिवालिया हुई ट्रैवल कंपनी #ThomasCook, छह लाख पर्यटक फंसे, जानें भारत पर क्या होगा असर

किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में थे उग्रवादी

पुलिस ने बताया कि गुमला के कामडारा व बसिया क्षेत्र में मुठभेड़ के दौरान पीएलएफआइ उग्रवादी गुज्जू गोप के मारे जाने बाद संगठन का काम बहुत कम हो गया था.

इसके बाद मार्टिन केरकेट्‌टा, अखिलेश गोप और तिलकेश्वर गोप को पीएलएफआइ की गतिविधी बढ़ाने के लिए संगठन में लोगों भर्ती की आवश्यकता थी. इसी क्रम में मार्टिन ने नीलकंठ साहू से संपर्क किया और 10 दिनों की ट्रेनिंग के बाद उसे गुमला-रांची बॉर्डर क्षेत्र का एरिया कमांडर बना दिया.

पीएलएफआइ की गतिविधि को बढ़ाने, लेवी एकत्र करने और बड़ी वारदात को अंजाम देने के उद्देश्य से ही नीलकंठ और अनिल जोराग जंगल में भ्रमणशील थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like