Gumla

गुमला: टीपीसी नक्सली ने चिपकाये पोस्टर, बगैर संगठन की सहमति का कोई काम नहीं करने की हिदायत

Gumla: जिले के घाघरा थाना क्षेत्र के प्रखंड कार्यालय के मेन गेट पर टीपीसी नक्सली ने पोस्टरबाजी की है. मिली जानकारी के अनुसार, टीपीसी नक्सलियों ने पोस्टर चिपका कर बगैर संगठन की सहमति के काम करने से मना किया है. पोस्टर में लिखा है कि जमीन दलाल,पुलिस दलाल,व्यापारी नेता और ठेकेदार बिना संगठन की सहमति के कोई कार्य नहीं करेंगे. नहीं तो उनके ऊपर फौजी कार्रवाई की जाएगी. पोस्टरबाजी के बाद इलाके में दहशत का माहौल है.

पोस्टर लगाये जाने की सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस ने पहुंचकर उसे हटाकर कर थाना ले आई है. और मामले की छानबीन में जुटी हुई है कि पोस्टरबाजी नक्सलियों के द्वारा की गई है या किसी असामाजिक तत्व का हाथ है.

इसे भी पढ़ेंःLockdown के दौरान 85% प्रवासी मजदूरों ने घर वापसी के लिए खुद किया अपने किराये का भुगतान- सर्वे

advt

लेवी में गिरावट आने से नक्सलियों में बौखलाहट

लॉकडाउन में निर्माण कार्य ठप होने के कारण लेवी में गिरावट आने से नक्सलियों में बौखलाहट बढ़ गयी है. उनका आर्थिक ढांचा चरमराने लगा है. साथ ही पुलिस की सख्ती बढ़ने से वे अपना दबदबा कायम रखने के लिए ग्रामीणों की लगातार हत्या कर रहे हैं. लॉकडाउन के कारण भाकपा माओवादियों सहित अन्य नक्सली संगठनों को लेवी नहीं मिल रही. ऐसे में आर्थिक तौर पर नक्सलियों की कमर टूट गयी है.
भाकपा माओवादी लेवी नहीं मिलने के कारण वाहनों में आगजनी की घटना को अंजाम दे रहे हैं. लॉकडाउन में लेवी नहीं मिलने पर नक्सलियों ने कई ठेकेदारों, सरकारी निर्माण कार्य से जुड़े लोगों को फरमान भी जारी किया है. यही वजह भी है कि माओवादी वारदातों में लॉकडाउन के बाद भी औसत गिरावट नहीं आयी है. उधर, पुलिस ने भी नक्सलियों के खिलाफ सख्ती बढ़ायी है.

गुमला में जलाये थे वाहन

याद दिला दे कि जिले के पालकोट व सुरसांग थाना क्षेत्र के सीमा में स्थित लव खम्मन टोली में एक जून की देर रात हथियार बंद उग्रवादियों ने सड़क निर्माण कार्य में लगी एक जेसीबी मशीन, एक पानी टंकी मशीन, एक रोलर, एक ग्राइंडर मशीन व एक ट्रैक्टर को आग के हवाले कर दिया था. आगजनी के कारण सभी मशीन पूरी तरह से जल गई थी. घटना स्थल से मशीन ऑपरेटर और मजदूर किसी तरह अपनी जान बचाकर भागने में सफल रहे थे.

इसे भी पढ़ेंःअब कोरोना संदिग्ध के शव के लिए परिजनों को टेस्ट रिपोर्ट का नहीं करना होगा इंतजार

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button