Gumla

गुमला पुलिस को मिली सफलता, एके 47 के साथ स०जे०जे०एम० का अपराधी गिरफ्तार

Ranchi : गुमला पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है. गुमला एसपी को मिली गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए फरार अपराधी रामदेव के अंगरक्षक को गिरफ्तार किया है.

गुमला पुलिस अधीक्षक को गुप्त सूचना मिली थी की एस०जे०जे०एम० (झांगूर ग्रुप) का रामदेव उरांव अपने तीन हथियार बंद साथियों के साथ किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए घाघरा आने वाला है. जिसके बाद एक छापेमारी दल का गठन किया गया. जिसमें अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी गुमला, पुलिस निरीक्षक गुमला अंचल तथा थाना प्रभारी घाघरा एवं सशस्त्र बल के जवान शामिल थे.

घाघरा-लोहरदगा मुख्य सड़क पर पेट्रोल पंप के आगे महदनिया के पास एंटी क्राइम चेकिंग लगाई गयी. जहां अपराधियों ने गाड़ी भगाने की कोशिश की. लेकिन पुलिस की तरफ से गाड़ी को घेर लिया गया.

advt

 

गाड़ी रुकते ही उसमें से चार व्यक्ति उतरकर भागने लगे, जिनमें एक संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ लिया गया तथा अन्य तीन भागने में सफल रहे. पूछताछ में अपराधी ने अपना नाम मुनीफ अंसारी, पिता साकिर अंसारी, सा० अरू, थाना सेन्हा, जिला लोहरदगा बताया गया.

ये लोग एस०जे०एम०एम० (झांगुर ग्रुप) के सक्रिय सदस्य हैं. ये अपने सुप्रीमो (रामदेव उरांव) तथा अन्य साथियों के साथ किसी घटना को अंजाम देने के लिए घाघरा आ रहे थे.

निशानदेही पर हुंडई इओन कार से ए०के० 56 राइफल होल्डिंग बट मैगजीन लगा हुआ, एक चितकबरा पाउच जिसमें गोली मैगजीन तथा अन्य सामान बरामद हुआ है. पुलिस ने एके 47 भी बरामद किया है. निशानदेही पर एक बाइक भी जब्त की गयी है.

 

इसे भी पढ़ें : छत्तीसगढ़, ओडिशा और पश्चिम बंगाल से ज्यादा महंगी है झारखंड के सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजों में पढ़ाई

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: