GumlaJharkhand

#Gumla: एनीमिया, कुपोषण से मुक्ति और आर्थिक विकास के संकल्पों के साथ महिला विकास मंडल का महाधिवेशन संपन्न

Gumla: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिला विकास मंडल, गुमला के द्वारा टोटो मैदान में 10,000 महिला समूहों की दीदियों की उपस्थिति में वार्षिक महाधिवेशन का सफल आयोजन किया गया.

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में जिला परिषद सदस्य कृपालता देवी, दिल्ली से बुद्धिजीवी सुधीर साईनी, सुधा सिंह शामिल हुईं.

महिला दिवस के अवसर टोटो में कार्यक्रम के पूर्व रैली भी निकाली गयी. गड़बड़ी और भ्रष्टाचार को लेकर महिलाओं की अवाज बुलंद करने एवं ग्रामसभा को मजबूत करने के नारों के साथ महिला समूह का जत्था कार्यक्रम स्थल पहुंचा.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : कर्नाटक और केरल के राज्यपाल रह चुके वरिष्ठ कांग्रेसी हंसराज भारद्वाज का निधन

 2006 में महिला विकास मंडल का किया गया था  गठन

2013 में प्रदान, महिला विकास मंडल गुमला एव झारखंड राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के साथ मिलकर तीन पक्षीय इकरारनामा के साथ एनआरएलएम का काम शुरू किया गया.

महाधिवशन के आयोजन का मुख्य उद्देश्य महिला सशक्तीकरण के अन्तर्गत विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं को स्वाबलंबी बनाते हुए उनके अधिकारों से उनको अवगत करते हुए समाज के निर्माण में उनकी भागीदारी के प्रति जागरूक करना था.

महाधिवेशन में कई विषयों की जानकारी महिलाओं को दी गयी. जैसे स्वच्छता ओर शौचालय का उपयोग और इसका ग्रामीण क्षेत्रों में महत्व, महिलाओं में खून की कमी के कारण उत्पन्न होने वाले रोग, एनीमिया के कारण एवम् इसे रोकने के उपाय को लेकर सीनी संस्था के द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जागरूकता फैलायी गयी.

वेयर फुट कॉलेज से प्रशिक्षित महिलाओं के द्वारा सोलर विद्युतीकरण एवं सोलर लिफ्ट सिंचाई के बारे में जानकारी दी गयी.

महिला विकास मंडल के बी एल ए सी अरुण कुमार होत्ता द्वारा महिलाओं के आजीविका कार्य में पूंजी की  समस्या को दूर करने के उद्देश्य से समूह को बैंक लिंकेज कर ऋण के रूप में बहुत कम ब्याज दर पर  उपलब्ध ऋण के बारे में जानकारी दी गयी.

प्रत्येक परिवार को अधिक से अधिक संख्या में बकरी पालन, कृषि, आम बागवानी, मुर्गी पालन, मशरूम उत्पादन आदि आजीविका क्षेत्रों में जुड़ने की बात के लिए कार्यक्रम में प्रोत्सहित किया गया.

इसे भी पढ़ें : अजय माकन ने राहुल गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने की पैरवी की,  कहा, दिल से नेक इंसान हैं…

महिला विकास मंडल गुमला का सफरनामा

संघ के अध्यक्ष सीता देवी द्वारा सभा को संबोधित करते हुए बताया गया कि महिला संघ के द्वारा आज के समय में 1550 महिला समूहों का गठन किया गया है. 107 ग्राम संगठन में कुल 19872 महिलाओं को जोड़ा गया है.

महिला मंडल राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा प्रदत चक्रीय निधि एवम सामुदायिक निवेश निधि एवं बैंक लिंकेज के माध्यम से प्राप्त पूंजी द्वारा अपने आर्थिक सुधार हेतु आम वागवानी, खेती, बच्चों की शिक्षा, कुटीर उद्योग, मुर्गी पालन आदि कार्यों में निवेश कर अपने परिवार को गरीबी के कुचक्र से बाहर निकालने का प्रयास महिलाएं कर रहीं हैं.

इसे भी पढ़ें : बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले सूर्या हांसदा ने रची थी अडाणी कंपनी में आग लगाने की साजिश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button