न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गुमला: सिसई में वोटिंग के दौरान पुलिस की गोली से नहीं हुई मो. जिलानी की मौत, भीड़ में मारा  गया था चाकू

1,068

Ranchi : गुमला जिला के सिसई थाना क्षेत्र के बधनी गांव में दूसरे चरण के चुनाव के दौरान बूथ संख्या 36 पर ग्रामीणों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई थी. इस झड़प में मारे गए युवक मोहम्मद जिलानी अंसारी की मौत पर बड़ा खुलासा हुआ है. जिसमें सामने आया है कि पुलिस की गोली से नहीं बल्कि चाकू से मोहम्मद जिलानी मौत होने की बात सामने आ रही है.

पुलिस के अधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस और पब्लिक के बीच हुए झड़प की घटना में मारे गए युवक मोहम्मद जिलानी अंसारी के पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक अंसारी के शरीर से डॉक्‍टरों को कोई गोली नहीं मिली है.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में रेप के आंकड़े चौंकाने वाले: औसतन हर दिन 5 लड़कियां होती हैं शिकार   

पोस्टमार्टम प्रक्रिया की करायी गयी है वीडियोग्राफी

मजिस्ट्रेट ने मृतक का पंचनामा बनाया है. वहीं मेडिकल बोर्ड ने शनिवार रात ही शव का पोस्टमार्टम किया. मामले की जांच को लेकर पूरी पोस्टमार्टम प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी कराई गई है. पुलिस के अधिकारिक सूत्रों और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, युवक की मौत गोली लगने से नहीं, बल्कि किसी धारदार हथियार से मारने से हुई है.

hotlips top

इससे आशंका यही जतायी जा रही है कि भीड़ में से किसी ने मौके फायदा उठाया और मोहम्मद जिलानी को चाकू मार दिया. पुलिस की गोली जिस लड़के की लगी है, उसके पैर में जख्म है और उसका इलाज रांची के रिम्स में चल रहा है. उसे भी एक-दो दिन के बाद हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी जाएगी.

इसे भी पढ़ें – #BJP में बड़ा कन्फ्यूजन: अध्यक्ष कहते- दूसरे चरण के सभी 20 सीट जीतेंगे, प्रवक्ता कहते- दो पर हार रहे

30 may to 1 june

क्या है मामला

गुमला के सिसई के बघनी गांव स्थित पोलिंग बूथ पर शनिवार को दूसरे चरण के मतदान के दौरान दो पार्टी समर्थकों के बीच झड़प हुई थी. पोलिंग बूथ पर तैनात जवानों ने जब दोनों गुटों को शांत कराने की कोशिश की तो ग्रामीण सुरक्षाबलों से ही उलझ पड़े.

धीरे-धीरे मामले ने तूल पकड़ा और मामूली बहस हिंसक झड़प में तब्दील हो गयी. इस दौरान आपे से बाहर हुए ग्रामीणों ने आरपीएफ के जवानों से हथियार छीनने की कोशिश की. जिसके बाद खुद की रक्षा में जवानों को फायरिंग करनी पड़ी थी, जिसमें एक युवक की मौत हो गई थी.

इसे भी पढ़ें – गुमला: पुलिस-ग्रामीणों में हिंसक झड़प, फायरिंग में एक की मौत के बाद वोटिंग बंद

एक की मौत, सिसई थाना प्रभारी समेत 8 जख्मी

गुमला के सिसई में ग्रामीणों और पुलिस के बीच हुई हिंसक झड़प में एक ग्रामीण (मोहम्मद जिलानी उम्र 28 साल) की मौत हो गयी थी. जबकि सिसई थाना प्रभारी विष्णु देव चौधरी, पुलिस के दो जवान अखिलेश यादव और राहुल घायल हुए थे.

साथ ही बीडीओ का चालक सीताराम सिंह और पत्रकार सीताराम साहू भी पथराव में घायल हुए थे. तीन ग्रामीण भी जख्मी हुए थे. घायलों में मो. अश्फाक और ठुपा अंसारी शामिल थे. सभी घायलों को गुमला सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

इसे भी पढ़ें – आखिर क्यों बोकारो विधानसभा क्षेत्र में मुद्दों की नहीं हो रही चर्चा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like