Crime NewsGumla

गुमलाः 40 वर्षीय शख्स की धारदार हथियार से निर्मम हत्या

Gumla: जिले के घाघरा थाना क्षेत्र के कोटामाटी गांव में मंगलवार रात अज्ञात अपराधियों ने एक श्खस की निर्मम हत्या कर दी. मृतक की पहचान 40 वर्षीय सीताराम उरांव के रुप में हुई है. अपराधियों ने धारदार हथियार से वार कर घटना को अंजाम दिया. किस कारण से ये हत्या की गई है, इसका खुलासा अबतक नहीं हो पाया है. सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच कर मामले की जांच में जुट गई है.

बुधवार सुबह शव को स्थानीय लोगों ने देखा और घाघरा थाना पुलिस को इसकी जानकारी दी. थाना प्रभारी ने बताया कि सीताराम उरांव जो कोटामाटी गांव का रहने वाला है. उसकी हत्या मंगलवार देर रात अज्ञात अपराधियों ने कर दी. मृतक के कान के पास किसी धारदार हथियार से वार करने का निशान है और हाथ के पास भी कटा हुआ है. हत्या के पीछे क्या मामला था अभी इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छानबीन कर रही है.

गुमला के घाघरा में सबसे ज्यादा हत्या

गुमला के घाघरा प्रखंड में इन दिनों हत्या की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं. अपराधी लगातार हत्या की घटनाओं को अंजाम देकर सीधे पुलिस को चुनौती दे रहे हैं. यहां पिछले एक महीना के अंदर आधा दर्जन से अधिक हत्या की घटनाएं हुई हैं. पिछले कुछ दिन पहले यहां दो युवकों की पत्थर से कूच कर हत्या कर दी गई थी. गुमला जिला घाघरा क्षेत्र में सबसे अधिक हत्या होती है.

हाल के दिनों में हुई हत्या की कुछ घटनाएं

28 सितंबर- कुहीपाठ खंभा ग्राम में 60 वर्षीय महिंद्र टाना भगत की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.

29 सितंबर- सेरेंगदाग भैंस बथान गांव में इतवा उरांव को अज्ञात अपराधियों ने धारदार हथियार से काट कर हत्या कर दी गई.

22 अक्टूबर- रायडीह थाना क्षेत्र के मांझाटोली डाड़टोली निवासी करमा कुजूर की पत्नी रुनिया कुजूर की अज्ञात अपराधियों ने पत्थर से कूचकर हत्या कर दी.

26 अक्टूबर- घाघरा प्रखंड मुख्यालय से महज 5 किलोमीटर दूर देवाकी में तीन अपराधियों ने ग्रामीण महेश महतो की हत्या कर दी. जिसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने एक अपराधी आकाश सिंह का सेंदरा कर दिया था.

29 अक्टूबर- तारा गुट्टू अंबा टोली में दो युवकों को पत्थर से कूच कर अज्ञात अपराधियों ने मार डाला.

इसे भी पढ़ेंःनक्शा पास करने को लेकर आरआरडीए और जिला परिषद आमने-सामने

इसे भी पढ़ेंःकड़ाके की ठंड में गरीबों को नहीं मिलेगा कंबल, जिलों में कंबल का…

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: