JharkhandLead NewsNationalRanchi

रांची में गुलगुलिया गैंग ने मचा रखा है आतंक, नाबालिग बच्चों से करवाते हैं चोरी

RANCHI: हाल के दिनों में राजधानी में चोरी या फिर फिर कहे छोटे मोटे अपराध की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है. और इसके पीछे कही न कही खानाबदशों (गुलगुलिया) का भी हाथ है. जिसे देखते हुए रांची पुलिस इन पर अब नकेल कसने की तैयारी में है.

इसे भी पढ़ें : रूपा तिर्की केस : आरोपी दारोगा शिव कुमार कनौजिया होगा बर्खास्त, साहिबगंज जेल में है बंद

रांची में इनदिनों चोरी की वारदात में इजाफा हुआ है. इसके लिए जहां एक तरफ दूसरे जिलों से आए गिरोह जिम्मेवार है वहीं दूसरी तरफ खानाबदोशो की तरह अपना जीवन-यापन करनेवाले गुलगुलिया भी इसके लिए जिम्मेवार है, और इसकी जानकारी भी रांची पुलिस के पास है. और इसे देखते हुए ऐसे लोगो को शहर से हटाने का निर्देश सभी थाना प्रभारियों को दिया गया है. मामले को लेकर रांची एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने कहा कि पुलिस शहर में चोरी और छिनतई के मामलों पर अंकुश लगाने को लेकर गंभीर है और इसे लेकर विशेष दिशा निर्देश भी दिए गए है. गश्ती दल को भी विशेष चौकसी को लेकर निर्देशित किया गया है.

इसे भी पढ़ें : पूरी राजधानी को सीसीटीवी के जद में लाने की कवायद ,मर्ज होंगे स्मार्ट सिटी और सीसीआर के कैमरे

advt

मंत्री बादल पत्रलेख की साइकिल चोरी के मामले में गुलगुलिया का हाथ था, हलांकि इस मामले में मंत्री ने थाने में प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई थी. मंत्री की साइकिल की बरामदगी तमाड़ इलाके से हुई थी. वहीं दो दिन पहले रांची के पंडरा इलाके में एक घर में कीमती गहनों की चोरी के मामले में पुलिस ने दोनों नाबालिग लड़कियों को गिरफ्तार कर रिमांड होम भेज दिया था, दोनों ही आरोपी बच्चे खानाबदोश कैंप में रहते हैं

 

रांची के कई थाना क्षेत्रों में गुलगुलिया कैंप अवस्थित हैं, इन कैंपों में झारखंड के विभिन्न जिलों के लोगों के अलाव दूसरे राज्यों के भी लोग शामिल हैं, इस कैंप में रहने वाले बच्चे अक्सर रास्ते में पैसे मांगते दिख जाएंगे, मना करने पर ये पीछे भी पड़ जाते हैं, इतना ही नहीं खानाबदोश कैंप में रहने वाले कुछ बच्चे और महिलाएं चोरी सहित अन्य अपराध की घटनाओं में शामिल रहते हैं. वहीं कई लोग मेहनतकश भी होते है. और सरकार को ऐसे लोगों पर ध्यान देना चाहिए. रांची में चोरी की वारदात कुछ इस तरह बढ़ी है कि कई लोग अपने घर के बाहर पोस्टर लगाकर चोरों को जानकारी दे रहे हैं कि उनके घरों में पहले ही चोरी की घटना हो चुकी है, ऐसे में बेकार में मेहनत न करें. ऐसे में पुलिस पर से भरोसा भी उठ रहा है, जिसे देखते हुए रांची एसएसपी इस पूरे मसले पर गंभीर है ताकि इस तरह के वारदातों पर लगाम लगाया जा सके.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: