न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गुजरात : बिहार-यूपी वालों में भरोसा कायम करने की कवायद, पुलिस अधीक्षक ने हिंदी भाषी के ठेले पर पानी पूरी खायी

गुजरात में प्रशासनिक अधिकारियों ने बिहार-यूपी के हिंदी भाषी प्रवासी कामगारों का भरोसा कायम करने के लिए अनूठी पहल की है.

83

Ahmedabad : गुजरात में प्रशासनिक अधिकारियों ने बिहार-यूपी के हिंदी भाषी प्रवासी कामगारों का भरोसा कायम करने के लिए अनूठी पहल की है. इस क्रम में गुजरात के अरवल्ली जिले के कलेक्टर एन नागराजन ने पुलिस अधीक्षक मयूर पाटिल के साथ मध्य प्रदेश के प्रवासी कामगार के स्टॉल से पानी पूरी का स्वाद चखा. साथ ही प्रवासियों के प्रतिनिधियों से मिल कर तस्वीरें साझा कीं. बता दें कि अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत सहित अन्य प्रभावित जिलों के कलेक्टर बड़ी प्रवासी आबादी वाले इलाकों का दौरा कर रहे हैं. वे प्रवासियों के साथ समय बिताते हुए उनकी सुरक्षा की चिंता का निराकरण कर रहे हैं. जान लें कि राज्य के साबरकांठा जिले में 28 सितंबर को 14 माह की बच्ची से दुषकर्म के बाद प्रवासी कामगारों पर हमले शुरू हो गये, जिसके कारण वे गुजरात से पलायन कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : मुलायम की छोटी बहू अपर्णा चाचा शिवपाल के खेमे में, मंच साझा किया, अखिलेश से दूरी बढ़ने के संकेत  

बिहार के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया

इस घटना में संलिप्तत बिहार के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. उसके बाद गैर गुजरातियों को निशाना बनाया जाने लगा. जानकारी के अनुसार  हमलों के बाद हिंदी भाषी कामगार गुजरात छोड़ने लगे. इस घटना के बाद मुख्य सचिव जे एन सिंह ने प्रभावित जिलों के कलेक्टरों को हिंदी भाषी लोगों के बीच जाकर उनमें भरोसा कायम करने के निर्देश दिये हैं. निर्देश के आलोक में अधिकारी हिंदी भाषी प्रवासियों का प्रतिनिधित्व करने वाले संगठनों के नेताओं के साथ बातचीत कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : पुलिस-अपराधी मुठभेड़, पिस्टल जाम हो गयी तो पुलिस मुंह से ठांय-ठांय करते हुए आगे बढ़ी, उड़ा मजाक

जदयू की दिल्ली इकाई ने अल्पेश ठाकोर को बर्खास्त करने की मांग की

जदयू की दिल्ली इकाई ने कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर को बर्खास्त करने की मांग को लेकर शनिवार को पार्लियामेंट स्ट्रीट पर धरना-प्रदर्शन किया. दिल्ली इकाई के अध्यक्ष दयानंद राय ने कहा, बिहार के लोगों पर हुए अत्याचार एवं हिंसा की पार्टी कड़े शब्दों में निंदा करती है.  राहुल गांधी से मांग की कि वह पार्टी के गुजरात कार्यकर्ताओं से बिहार के लोगों पर हमले को रोकने में मदद करने को कहें; उधर, अल्पेश ठाकोर ने कहा है कि कांग्रेस को बदनाम करने के लिए सोशल मीडिया पर एक डॉक्टर्ड वीडियो डाला गया. किसी पर कोई हमला नहीं हुआ है. अफवाह फैलाई जा रही है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: