Crime NewsDhanbadJharkhand

गुजरात पुलिस ने धनबाद से तीन साइबर अपराधियों को किया गिरफ्तार

Dhanbad: बुधवार को गुजरात के पाटन जिला के क्राइम ब्रांच की टीम ने निरसा पुलिस के सहयोग से जहां गोविदपुर थाना अंतर्गत बागसुमा निवासी साइबर अपराधी राहुल दास को मोबाइल लोकेशन के आधार पर निरसा सिनेमा मोड़ से गिरफ्तार कर लिया. वहीं धनबाद थाना क्षेत्र अंतर्गत दामोदरपुर से दो सगे भाई संजय रविदास और राजू रविदास को गिरफ्तार किया है.

धनबाद के इन तीन साइबर ठगों ने गुजरात के पाटन जिले के एक व्यवसायी का शिकार किया है. उनके बैंक खाते से लाखों रुपये निकाल लिए हैं. गिरफ्तार किए गए अपराधियों को ट्रांजिट रिमांड पर लेने के लिए गुजरात पुलिस ने धनबाद कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने गुजरात ले जाने की अनुमति दे दी.

advt

गिरफ्तार साइबर अपराधी संजय, राजू और राहुल रविदास पहले भी साइबर क्राइम के अपराध में जेल जा चुके हैं. उस वक्त टुंडी और जामताड़ा से भी कुछ अपराधी इनकी निशानदेही पर पकड़े गए थे. यह लोग फोन कर ओटीपी मंगाकर लोगों के खाते से निकासी कर लेते हैं. अभी तक की पूछताछ में पता चला है किया सभी अपराधी गुजरात, महाराष्ट्र कोलकाता, दिल्ली जैसे जगह पर ही फोन कर ठगी करते हैं. बताया जा रहा है कि ऐसे कई गैंग है जो धनबाद के लोगों को छोड़ बाहर के लोगों को निशाना बना रहे हैं ताकि वह आसानी से नहीं पकड़े जा सके.

इसे भी पढ़ें – गिरिडीहः कोरोना टेस्टिंग में आई कमी, 15 लाख लोगों ने लिया कोरोना का टीका

गोविंदपुर डीएसपी अमर पांडे ने बताया कि गुजरात पुलिस बैंक खाते के जरिए धनबाद पहुंची. अपराधियों ने ठगी करके अपने ही पिता सुरेश रविदास के खाते में पैसे मंगा लिए थे. पुलिस ने जब अपराधियों के पिता को दबोचा तो उसने बताया कि वह कुछ नहीं जानता है उनके बेटों ने पैसे मंगाया है. इसके बाद पुलिस ने दोनों भाई को पकड़ लिया और उनके निशानदेही पर तीसरा राहुल दास भी पकड़ा गया. गुजरात पुलिस निरसा में बाकी अपराधियों को पकड़ गुजरात ले जाने की तैयारी में जुटी हुई है. स्थानीय पुलिस उनका सहयोग कर रही है.

मालूम हो कि इनदिनों बहुत तेजी से साइबर ठगी का तरीका बदल रहा है. ठगी के तरीके से पुलिस आम लोगों को जबतक जागरूक करती है लेकिन ठग नए हथियार के साथ शुरू हो जाते हैं. इन दिनों ठग लड़की की आवाज को हथियार बना रहे हैं. वह आवाज बदलकर लड़की की आवाज में मीठी-मीठी बात करते हैं. इस मीठी आवाज के चक्कर में जो पड़ा उसका बैंक खाता खाली.

इसे भी पढ़ें – औरंगाबाद : पत्नी के आशिक़ ने की थी शिक्षक की हत्या

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: