National

गुजरातः राज्यसभा चुनाव से पहले एक और विधायक ने छोड़ा कांग्रेस का हाथ, अबतक आठ का इस्तीफा 

Ahmedabad: राज्यसभा चुनाव से पहले गुजरात में कांग्रेस को एक और झटका लगा है. पार्टी के एक और विधायक बृजेश मेरजा ने शुक्रवार को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. इसके साथ ही गुजरात में कांग्रेस का हाथ छोड़ने वाले ये आठवें विधायक हैं. 

बृजेश मेरजा तीन दिनों में इस्तीफा देने वाले तीसरे विधायक हैं. इनसे पहले कांग्रेस विधायक अक्षय पटेल और जीतू चौधरी ने बुधवार शाम को इस्तीफा दे दिया था. इससे पहले मार्च में पांच विधायकों ने इस्तीफा दिया था.

इसे भी पढ़ेंःरांचीः सिविल सर्जन ने मेडिका को भेजा नोटिस, रिम्स को पूरी जानकारी नहीं देने पर जताई आपत्ति

अबतक आठ विधायकों का इस्तीफा

गुजरात के मोरबी सीट से विधायक बृजेश मेरजा ने चुनाव जीता था. और शुक्रवार को उन्होंने अपना इस्तीफा दे दिया है. विधानसभा सचिव ने पुष्टि की कि विधानसभा अध्यक्ष राजेन्द्र त्रिवेदी ने मेरजा का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है. विधायक के तौर पर इस्तीफा देने से पहले मेरजा ने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया था.

बता दें कि पिछले तीन दिन में इस्तीफा देने वाले वह कांग्रेस के तीसरे विधायक हैं. इससे पहले राज्यसभा चुनाव के ऐलान के बाद कांग्रेस के पांच विधायकों ने इस्तीफा दे दिया था. मार्च में ही पांच विधायकों ने अपना इस्तीफा दिया था, जिनमें गढ्डा से प्रवीण मारू, लिंबडी से सोमा पटेल, अबडासा से प्रद्युम्न सिंह जडेजा, धारी से जेवी काकड़िया और डांग से मंगल गावित शामिल हैं. बता दें कि पहले राज्यसभा चुनाव 26 मार्च को होने थे, लेकिन लॉकडाउन और कोरोना संक्रमण के कारण इसकी तारीख आगे बढ़ा दी गयी है. अब गुजरात में चार राज्यसभा सीटों के लिए 19 जून को चुनाव होने हैं.

इसे भी पढ़ेंःCorona Update: झारखंड में संक्रमण से सातवीं मौत, रिम्स के कोविड वार्ड में एडमिट था शख्स

कांग्रेस ने उतारे हैं दो प्रत्याशी

राज्य की चार सीटों में से कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव के लिए दो उम्मीदवार उतारें हैं. इनमें शक्ति सिंह गोहिल और भरत सिंह सोलंकी शामिल हैं. गोहिल को पहली वरीयता का वोट मिलेगा और उनका राज्यसभा के लिए निर्वाचित होना निश्चित माना जा रहा है, लेकिन भरत सिंह सोलंकी का भविष्य अधर में लटका है.

इधर विधायकों के इस्तीफे पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अर्जुन मोडवाडिया ने कहा कि बीजेपी हमारे विधायकों को लुभाने के लिए पैसे के साथ ही धमकी का इस्तेमाल कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button