BusinessTop Story

आज से लागू हो रहे हैं GST के नये रेट, सस्ते होंगे टीवी-फ्रिज व अन्य सामान

New Delhi : जीएसटी के नए रेट शुक्रवार से लागू हो रहे हैं. साफ है कि आज से कुछ चीजें सस्ती हो जाएंगी. जीएसटी काउंसिल ने 100 से ज्यादा प्रोडेक्ट्स पर जीएसटी घटा दिया है. रोजाना काम आने वाली वस्तुओं के साथ साथ फ्रिज, टीवी (68 सेमी तक), वॉटर हीटर, वॉशिंग मशीन, वैक्यूम क्लीनर्स, पेंट आदि पर जीएसटी 28 प्रतिशत से घटाकर 18 प्रतिशत कर दिया गया है. इन प्रोडक्ट के दाम सीधे-सीधे 10 प्रतिशत तक कम होंगे. वहीं विभिन्न सेगमेंट में एक हजार से लेकर 20 हजार तक का फायदा होगा.

इसे भी पढ़ें- मांडू में बिरहोर की मौत की वजह जो भी हो, जिम्मेदार पर होगी कार्रवाई : सरयू राय

इन उत्पादों पर दी गयी छूट

27 जुलाई से सैनिटरी नैपकिन, फुटवियर और रेफ्रिजरेटर सहित करीब 88 आम इस्तेमाल के प्रोडक्ट सस्ते हो जाएंगे. गौरतलब है किजीएसटी परिषद ने पिछले सप्ताह 28 प्रतिशत के सबसे ऊंचे टैक्स स्लैब से कई उत्पादों को हटाया था और उन्हें 18 प्रतिशत कर स्लैब में डाला गया था. जिसके बाद कई उत्पाद सस्ते हो गए हैं. सैनिटरी नैपकिनको जीएसटी से छूट दे दी गई है. पहले इसपर 12 प्रतिशत टैक्स लागू था. वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने बताया था कि कि टैक्स में किये गये बदलावों से 100 से अधिक सामान सस्ते होंगे. जिसके बाद सेनेटरी नैपकिन के अलावा राखी, हैंडीक्राफ्ट, स्टोन, मार्बल और लकड़ी की बनी मूर्तियां, फूल वाली झाड़ू, साल पत्ते पर अब टैक्स नहीं लगेगा. इसके अलावा दस्तकारी के छोटे सामानों को टैक्स में राहत दी गयी है.

इसे भी पढ़ें- विभागों ने खर्च कर दिये 29,449 करोड़, पर नहीं दे पा रहे उपयोगिता प्रमाणपत्र, एजी ने जतायी आपत्ति

पांच करोड़ से कम कारोबार करने वाले तिमाही रिटर्न दाखिल कर सकते हैं

जीएसटी काउंसिल ने छोटे कारोबारियों को राहत दी है. अब सालाना पांच करोड़ रुपये से कम का कारोबार करने वाले तिमाही रिटर्न दाखिल कर सकते हैं.  इस फैसले से 93 प्रतिशत इकाइयों को लाभ मिलेगा. तिमाही रिटर्न भी मासिक रिटर्न की तरह ही भरना पड़ेगा.  इसमें बी2सी (व्यवसायी से उपभोक्ताओं को बिक्री) और बी2बी (व्यावसायिक इकाई से व्यवसायिक इकाई को आपूर्ति)+ बी2सी कारोबार करने वाली छोटी इकाइयों के लिए दो साधारण रिटर्न फॉर्म सहज और सुगम तैयार किये गये हैं.

इसे भी पढ़ें- हटाये गये रिम्स के मेडिकल ऑफिसर, डॉ विद्यासागर के हाथों जिम्मा

वॉशिंग मशीन, रिफ्रिजरेटर पर 28 प्रतिशत की जगह 18 प्रतिशत टैक्स

वॉशिंग मशीन, रिफ्रिजरेटर, टीवी (27 इंच तक), विडियो गेम्स, लिथियम आयन बैट्रीज, वैक्यूम क्लीनर, फूड ग्राइंडर, मिक्सर, स्टोरेज वॉटर हीटर, ड्रायर, पेंट, वॉटर कूलर, मिल्क कूलर, आइसक्रीम कूलर्स, परफ्यूम, टॉइलट स्प्रे को 28 फीसदी टैक्स स्लैब से हटाकर 18 प्रतिशत टैक्स स्लैब में लाया गया है.

इसे भी पढ़ें- नगर निगम के स्वच्छता के दावे की निकली हवा, पब्लिक टॉयलेट्स का हाल बेहाल

 हैंडबैग्स, जूलरी बॉक्स पर 12 प्रतिशत टैक्स

वित्त मंत्री ने कहा कि हैंडबैग्स, जूलरी बॉक्स, पेटिंग के लिए लकड़ी के बॉक्स, आर्टवेयर ग्लास, हाथ से बने लैंप पर टैक्स घटाकर 12 प्रतिशत करने का फैसला किया गया है.  बांस से बने सामनों से भी टैक्स 18 फीसदी से घटाकर 12 प्रतिशत किया गया है.  निर्माण क्षेत्र के काम आने वाले तराशे हुए कोटा पत्थर, सैंड स्टोन और इसी गुणवत्ता के अन्य स्थानीय पत्थरों पर जीएसटी की दर को 18 से घटाकर 12 प्रतिशत किया गया है.  इथेनॉल पर 18 प्रतिशत से घटाकर 5 प्रतिशत पर टैक्स किया गया है.  इससे चीनी उद्योग और किसानों को फायदा होगा.  इसके अलावा 1000 रुपये तक के फुटवेयर पर अब 5 फीसदी टैक्स लगेगा, पहले यह राशि 500 रुपये थी.  हैंडलूम की दरी पर टैक्स भी 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी किया गया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Related Articles

Back to top button