न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दादा ने नाबालिग पोती को बनाया हवस का शिकार

38

Garhwa: गढ़वा जिले के रंका थाना के एक गांव में पारिवारिक रिश्तों की मर्यादा और संस्कार को तार-तार कर देने की घटना सामने आयी है. रिश्ते में दादा लगने वाले शख्स ने नाबालिग पोती को अपने हवस का शिकार बनाकर पारिवारिक रिश्ते की मर्यादा को तार तार कर दिया. हालांकि पिता के द्वारा लड़की को त्यागे जाने के कारण उसे हवस का शिकार बनना पड़ा.

इसे भी पढ़ें:लालपुर में छात्र को चाकू मारकर अपराधी ने लूट लिये मोबाइल और 500 रुपये

पिता के दुत्‍कार का बुजुर्ग ने उठाया फायदा

जानकारी के अनुसार 12 साल की एक नाबालिग लड़की को जब उसके पिता ने दुत्कारना शुरू कर दिया तो रिश्ते में दादा लगने वाले 60 साल के तजमुल अंसारी उस लड़की के साथ दुष्कर्म करने लगा और इसके एवज में हमदर्दी दिखाने लगा.

इसे भी पढ़ें: शिव शिष्‍य परिवार के ‘बेटी है तो सृजन है, बेटी है तो कल है’ संगोष्‍ठी में शामिल हुए देश भर के लोग

ग्रामीणों ने पकड़ा रंगे हाथ

लड़की की मां की आकस्मिक निधन ने बाद पिता ने दूसरी शादी कर ली थी. उसके बाद पिता अपनी इस बेटी को घर से बाहर करने का प्लान बनाने लगा. गांव में इसके लिए पंचायत बैठी. उसके बाद वह लड़की अपने पिता के घर में रहने लगी, लेकिन उसकी स्थिति एक नौकरानी की तरह बन कर गयी. उसके घर में मकान बनने का काम शुरू हुआ तो वह उसमें मजदूरी करने लगी. उसके साथ रिश्ते में दादा लगने वाला तजमुल अंसारी भी मजदूरी कर रहा था. तजमुल लड़की की मजबूरी का फायदा उठाते हुए उसे बहलाने-फुसलाने लगा. साथ ही वह उसे खैनी खिलाने लगा और गांव से 500 मीटर दूर जंगल में ले जाकर दुष्कर्म करने लगा. गांव वालों को तजमुल पर शक हुआ. 26 अक्तूबर को गांव वाले उसकी रेकी करने लगे. ग्रामीणों ने जंगल में दुष्कर्म करते उसे रंगे हाथों पकड़ लिया. ग्रामीणों के निर्णय के बाद रंका थाना में लड़की से मुकदमा कराया गया. पुलिस ने तजमुल अंसारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. पुलिस ने पीड़िता की सदर अस्पताल में मेडिकल जांच कराकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: