JharkhandKoderma

बिहार में महागठबंधन की बनी सरकार, राजद कांग्रेस, वामदल ने मनाया जश्न

Koderma: बिहार में भाजपा से नाता तोड़ राजद, कांग्रेस, वामदल, हम और वीआईपी पार्टी के साथ जदयू ने नई सरकार बना ली. जदयू के राजनीतिक फैसले से देश की राजनीति अब बदल जाएगी. बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में महागठबंधन की सरकार सामाजिक न्याय के साथ आर्थिक न्याय की नीति को आगे बढ़ाएगी. बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने से भाजपा को सबसे ज्यादा नुकसान होना तय है. उक्त बातें राजद जिलाध्यक्ष रामधन यादव ने बुधवार को झंडाचौक पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही. राजद, कांग्रेस और वामदल के नेताओ ने बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने पर जश्न मनाया, साथ ही जमकर आतिशबाजी की. कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज सहाय पिंकू ने कहा कि बिहार में साम्प्रदायिक शक्ति को जनता के साथ अब उनके सहयोगी भी छोड़ रहे. देश मे संविधान, लोकतंत्र और संवैधानिक संस्थानों को लगातार पंगु बनाया जा रहा. सीपीआई जिला मंत्री प्रकाश रजक ने कहा कि देश मे मंहगाई, बेरोजगारी बड़ा मुद्दा बन गयी है. बीजेपी की राजनीति पूंजीपतियों के पक्षधर रही है. साथ ही पूंजीवादी ताकतों के बल पर नफरत की राजनीति बढ़ाने का काम करती है. नीतीश कुमार ने बिहार को बढ़ाने और नफरत के बुनियाद पर देश मे जहर घोलने वाले भाजपा से नाता तोड़कर ऐतिहासिक निर्णय लिया है, जो स्वागतयोग्य कदम है. मौके पर सुनील यादव, प्रदीप यादव, मनोज यादव, मंटू यादव, रामबचन यादव, जैकी यादव, सूरज यादव, गोविंद यादव, प्रवीण यादव, खलील अंसारी, गोविंद यादव, मंगलदेव यादव, रामचंद्र यादव, सहदेव यादव के अलावे कांग्रेस नेता नवनीत ओझा, धीरज कुमार समेत अन्य लोग मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें: देश के 49वें चीफ जस्टिस नियुक्त हुए जस्टिस यूयू ललित

Related Articles

Back to top button