न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कृषि आशीर्वाद योजना को लेकर 18 जनवरी को राज्य भर में सरकार करेगी ग्रामसभा का आयोजन

757

Ranchi : मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का लाभ किसानों को देने को लेकर 18 जनवरी को सरकार पूरे राज्य में ग्रामसभा का आयोजन करेगी. विभाग ने इस ग्रामसभा के जरिये गांव स्तर पर रैयत समन्वय समिति का गठन करने का निर्णय लिया है. 15 जनवरी से 22 जनवरी तक प्री प्रिंटेड नोटिस का प्रपत्र तथा शपथपत्र किसानों, रैयतों को उपलब्ध कराया जा रहा है तथा रैयत समन्वय समिति द्वारा गांववार आपत्ति प्राप्त कर उस पर 24 जनवरी से 7 फरवरी तक सुनवाई भी की जायेगी. इसी उद्देश्य को पूरा करने के लिए बुधवार को राज्य के सभी उपायुक्तों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल और कृषि सचिव पूजा सिंघल ने दिशा-निर्देश दिये. मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल ने मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना को राज्य सरकार की अति महत्वपूर्ण योजना बताते हुए उपायुक्तों से कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास इस योजना के बेहतर कार्यान्वयन के लिए गंभीर हैं.

स्थानीय भाषा में कृषकों को योजना और प्रक्रिया की दें जानकारी

डॉ सुनील कुमार वर्णवाल ने सभी उपायुक्तों से कहा कि योजना की जानकारी हर किसान तक पहुंचे. उन्होंने इसके प्रचार-प्रसार के लिए स्थानीय भाषा और बोली का सहारा लेने पर बल दिया. उन्होंने कहा कि पम्फलेट आदि के साथ-साथ ऑडियो-विजुअल माध्यम का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करें. इसके लिए एलईडी वैन और अन्य माध्यमों का सहारा भी लें. उन्होंने कहा कि जहां किसानों की खेतिहर जमीन का सर्वे नहीं हुआ है, वहां मैन्युअल तरीका अपनायें.

योजना से जनप्रतिनिधियों को भी जोड़ें

कृषि सचिव पूजा सिंघल ने उपायुक्तों को अपनी निगरानी में ग्रामसभा 18 जनवरी को कराने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना में हर स्तर के जनप्रतिनिधियों की सहभागिता भी सुनिश्चित करें.

इसे भी पढ़ें- रिम्स : सुरक्षा में तैनात सैप जवानों का आरोप- शाम ढलते ही जूनियर डॉक्टर कैंपस में करते हैं अश्लील…

इसे भी पढ़ें- गढ़वा : पुरुष जवान ने महिला को पीटा, महिला ने भी की पिटाई

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: