न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हर्बल तेल का विज्ञापन कर फंसे गोविंदा और जैकी श्रॉफ, दर्द नहीं मिटने पर लगाया गया जुर्माना

673

NewDelhi : एक्टर गोविंदा और जैकी श्रॉफ पर उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर की एक उपभोक्ता अदालत ने जुर्माना लगाया है.

एक दर्द निवारक तेल का प्रचार करने के लिए 20 हजार रुपये का जुर्माना ठोका गया है. इसके अलावा तेल बनाने वाली कंपनी पर भी जुर्माना लगाया गया है.

Sport House

इसे भी पढ़ें : #PALAMU : नक्सली हमले का शिकार हुए मोहन गुप्ता रह चुके थे MCC कैडर, पहले भी हमला हुआ था, फिर भी सुरक्षा नहीं मिली

पांच साल पहले दर्ज कराया था मुकदमा

एक युवक ने पांच साल पहले एक हर्बल ऑयल बनाने वाली कंपनी और इसके दो सेलिब्रिटी ब्रांड एंबेसडर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था, जिस पर अब फैसला आया है.

दायर शिकायत में आरोप लगाया गया कि 15 दिनों में दर्द निवारण नहीं हुआ, जैसा कि इसके विज्ञापन में दावा किया गया था.

Vision House 17/01/2020

जुलाई 2012 में अखबार में एक विज्ञापन देखने के बाद मुजफ्फरनगर के वकील अभिनव अग्रवाल ने अपने 70 वर्षीय पिता बृजभूषण अग्रवाल के लिए 3600 रुपये की कीमत वाला दर्द निवारण हर्बल ऑयल मंगाया. विज्ञापन में दावा किया गया था कि ग्राहकों को फायदा नहीं होने पर 15 दिनों के अंदर रुपये वापस कर दिये जायेंगे.

इसे भी पढ़ें : नक्सली अभियान स्पेशलिस्ट बताकर जिस इंस्पेक्टर का SP ने रोका था तबादला, उसी को नहीं मिली नक्सलियों की सक्रियता की भनक 

Related Posts

शेख हसीना ने कहा,  #CAA_NRC भारत का आंतरिक मामला, पर जरूरत समझ में नहीं आयी

बांग्लादेश की पीएम ने इस बात से भी साफ इनकार किया कि उनके देश से धार्मिक उत्पीड़न के चलते अल्पसंख्यक समुदाय के लोग भारत पलायन कर रहे हैं.

SP Deoghar

दूर नहीं हुआ दर्द

इस्तेमाल किये जाने के दस दिन के बाद भी दर्द दूर नहीं हो सका, जिसके बाद अग्रवाल ने मध्यप्रदेश की कंपनी के प्रतिनिधि से बात की और उसने उन्हें प्रोडक्ट को वापस करने और रिफंड करने की बात कही.

हालांकि, कंपनी ने पैसे वापस नहीं दिये और फिर संपर्क किये जाने पर वकील को परेशान करने लगे. इसके बाद वकील ने उपभोक्ता अदालत में शिकायत दर्ज करायी.

उन्होंने बताया, ‘मैंने प्रोडक्ट इसलिए खरीदा क्योंकि गोविंदा और जैकी श्रॉफ जैसे सेलिब्रिटी उसका प्रचार कर रहे थे. कंपनी ने वादा किया था 15 दिनों में दर्द दूर हो जायेगा, लेकिन सबकुछ धोखा था.’

अदालत ने मामले से संबंधित सभी पांच लोगों कंपनी, गोविंदा, जैकी श्रॉफ, टेलीमार्ट शॉपिंग नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड और मैक्स कम्युनिकेशन को मुआवजे के रूप में 20 हजार रुपये देने का निर्देश दिया है.

इसके अलावा फर्म को आदेश दिया गया कि वह अन्य कानूनी खर्चो के साथ-साथ अग्रवाल को 9 प्रतिशत प्रति वर्ष की ब्याज दर के साथ 3600 रुपये का भुगतान करे.

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection: बीजेपी के दिग्गज नेता कड़िया मुंडा के बेटे अमरनाथ मुंडा जेएमएम में शामिल

Mayfair 2-1-2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like